यूपी में जीका वायरस का खतरा बढ़ा, कई किलोमीटर तक फैला जाल

Last Updated: बुधवार, 3 नवंबर 2021 (16:05 IST)
हमें फॉलो करें
यूपी। यूपी में का खतरा बढ़ता ही चला जा रहा है। यह कानपुर में कई किलोमीटर तक फैल गया है। अभी तक परदेवनपुरवा तक ही संक्रमित मिल रहे थे लेकिन उसने अब पूरे चकेरी के साथ ही जीटी रोड और हाईवे किनारे बसे इलाकों को भी चपेट में ले लिया है। 2 हेल्थ वर्कर भी 11 जीका संक्रमितों में मिले हैं। में हड़कंप इस बात को लेकर मचा है कि ये वर्कर सैकड़ों घरों तक पहुंचे हैं इसलिए दोनों की ट्रैवल हिस्ट्री बनाई जा रही है। इनके संपर्क में आए लोगों के भी नमूने लिए जाएंगे।

जीका वायरस ने परदेवनपुरवा, पोखरपुर, कालीबाड़ी, लाल बंगला, शिव कटरा के साथ ही कई किलोमीटर दूर जीटी रोड पर काकोरी और श्याम नगर को भी चपेट में लिया है। यहां पर 2 रोगी पॉजिटिव मिले हैं। इसी तरह शिव कटरा के बाद हाईवे के किनारे बसे कोयला नगर में भी जीका पहुंच गया है। यहां पर हेल्थ वर्कर का आवास है। दोनों हेल्थ वर्करों की केस हिस्ट्री शासन के साथ ही डब्ल्यूएचओ को भी दी जाएगी ताकि उनके संपर्क में आए सभी लोगों की सैम्पलिंग की जा सके।
सर्विलांस टीम की मानें तो इन दोनों को जीका वायरस की संक्रमण लालबंगला क्षेत्र से ही मिला है, क्योंकि एयरफोर्स स्टेशन ओर इन्हें गए हुए 23 दिन हो गए हैं। अपर निदेशक स्वास्थ्य डॉ. जीके मिश्र ने बताया कि दोनों का ब्योरा जुटा लिया गया है। सभी संक्रमितों की आवाजाही और संपर्क में रहने वालों की सूची बनाई जाएगी, फिर नमूने लिए जाएंगे।

डीएम विशाख जी ने मंगलवार को जीका वायरस प्रभावित शिवकटरा का निरीक्षण किया। डीएम ने लोगों को जागरूक करते हुए कहा कि अपने घरों में साफ पानी को एकत्र न होने दें और मच्छरदानी का प्रयोग करें। नगर आयुक्त को निर्देशित करते हुए कहा कि क्षेत्र में सफाई कार्य सुनिश्चित कराया जाए और लगातार दवा का छिड़काव करें।



और भी पढ़ें :