1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. उत्तर प्रदेश
  4. Power supply stalled in UP due to strike of employees
Written By
Last Updated: शनिवार, 3 दिसंबर 2022 (12:53 IST)

कर्मचारियों की हड़ताल से UP में बिजली आपूर्ति ठप, गांवों में व्यवस्था लड़खड़ाई

लखनऊ। यूपी में कर्मचारियों की हड़ताल के कारण विद्युत व्यवस्था में व्यवधान आ गया है। यहां बिजली कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति का मांगों को लेकर 132 केवी उपकेंद्र चिल्ला रोड में तीसरे दिन भी धरना जारी रहा। इससे गांवों की बिजली व्यवस्था लडख़ड़ा गई है।
 
पैलानी, जसपुरा, पल्हरा, हटेटी पुरवा, कहला, गंछा आदि गांव फॉल्ट की समस्या से जूझ रहे हैं। यहां पर लाइनों को ठीक करने के लिए कोई कर्मचारी नहीं जा रहे हैं। कई गांव अंधेरे में डूबे हुए हैं। इंजीनियर वैभव शुक्ला ने कहा कि जब तक हमारी समस्याओं का निराकरण नहीं होता आंदोलन जारी रहेगा।
 
जेई कांता प्रसाद ने कहा कि सरकार सरकारी विभागों में ही नहीं बल्कि अब तो सेना में भी संविदा पर सैनिक रख रही। अनिल यादव ने कहा कि आउटसोर्सिंग/ठेकेदारी व्यवस्था के अंतर्गत कार्य करना पड़ेगा। आशीष ने कहा कि सरकार ने वर्ष 2000 से कॉर्पोरेशन में पेंशन बंद कर दी है।
 
पेंशन बंद होने से कर्मचारियों का बुढ़ापे का सहारा छिन गया है। आलोक शर्मा, रवि गौतम, उदय प्रताप, प्रकाश देव, रामसिंह, मोहम्मद सिद्दीक, देववृत, अमित, अलताफ, राजेश श्रीवास, राहुल सिंह और अनुदेश कटियार रहे।