गुरुवार, 2 फ़रवरी 2023
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. उत्तर प्रदेश
  4. person who gave 2 crores for beheading of CM Yogi is in the grip of the police
Written By हिमा अग्रवाल
पुनः संशोधित शुक्रवार, 2 सितम्बर 2022 (23:40 IST)

CM योगी का सिर काटने पर 2 करोड़ देने वाला पुलिस के शिकंजे में, पड़ोसी को फंसाने के लिए रच डाली साजिश

मुरादाबाद। उत्तर प्रदेश राज्य के मुखिया योगी आदित्यनाथ का सिर कलम करने की धमकी देना वाले शख्स संजय सैनी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। 13 अगस्त 2022 को इस शातिर दिमाग ने मुरादाबाद के आत्मप्रकाश पंडित को फंसाने के लिए उसके पुराने फोन नम्बर से फेक फेसबुक आईडी बनाई और इस आईडी से मुख्यमंत्री के लिए अभद्र टिप्पणी कर डाली।
 
मुख्यमंत्री का सिर काटकर लाने वाले को दो करोड़ का इनाम देने की घोषणा भी कर दी। उसके बाद एक फेक आईडी के जरिए मुरादाबाद पुलिस के नाम से फेसबुक पेज बनाकर पोस्ट को सोशल मीडिया पर टैग कर दिया था। पोस्ट पर पाकिस्तान का झंडा भी लगा हुआ था। इस मामले की जानकारी होते ही सिविल लाइंस थाना चौकी के इंचार्ज की शिकायत पर मुकदमा दर्ज करते हुए जांच शुरू कर दी।
 
इनके फोन से बनी फेक आईडी : मुरादाबाद के हरतला के रहने वाले आत्मप्रकाश पंडित जो जिला पंचायत में ठेकेदारी करते हैं, उन्होंने पुलिस से शिकायत कि किसी ने उनके पुराने मोबाइल नंबर से एक फेसबुक आईडी बनाई हुई है, जो वह चला नहीं रहे हैं। फर्जी आईडी से मुख्यमंत्री योगी जी के लिए आपत्तिजनक टिप्पणी की जा रही है, मुख्यमंत्री के सिर को गर्दन से अलग करने वाली बात से उसका कोई लेना-देना नही है। आत्मप्रकाश ने पुलिस को यह भी बताया कि इसकी जानकारी पड़ोस में रहने वाले एक शख्स ने उसे दी है। पुलिस में शिकायत के बाद आत्मप्रकाश भी शक के दायरे में आ गए, पुलिस ने उनसे भी पूछताछ की, लेकिन वह डरे नहीं, निष्पक्ष रूप से पुलिस जांच में सहयोग किया। 
 
इस तरह सक्रिय हुई पुलिस : मुख्यमंत्री का शनिवार को मुरादाबाद दौरा है। दौरे से पहले पुलिस ने योगी का सिर कलम करने के लिए दो करोड़ का इनाम देने वाले संजय सैनी उर्फ संजू को गिरफ्तार कर लिया है। संजय द्वारा सिर कलम वाली इस पोस्ट में पाकिस्तान का झंडा, पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान का फोटो, मुरादाबाद डीएम के फोटो के साथ कई आपत्तिजनक बातें लिखी गई थीं। पोस्ट पर RSS की आयुषी ने भी पुलिस को ट्वीट किया था। मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस विभाग के साथ-साथ इंटेलिजेंस यूनिट और जेडो विभाग भी सक्रिय हो गया था।
 
इसलिए रची संजय ने साजिश : पुलिस ने इस पोस्ट का खुलासा करते हुए बताया है कि संजय सैनी एक लड़की से प्रेम करता है, उसकी प्रेमिका से शादी नहीं हो पा रही थी। उसे लगता था कि उसकी शादी में आत्मप्रकाश पंडित रोड़ा है। आत्मप्रकाश को फंसाने की योजना बनाते हुए संजय ने आत्मप्रकाश के पुराने नंबर को मेंशन करते हुए एक फर्जी फेसबुक आईडी बनाई और उस आईडी से मुख्यमंत्री के सिर कलम करने वाले शख्स को दो करोड़ रुपए देने की बात कही।
पुलिस ने आरएसएस कार्यकर्ता के ट्वीट पर संज्ञान के बाद पुलिस की तरफ से मुकदमा पंजीकृत किया गया, वहीं आत्मप्रकाश भी पुलिस से पहले ही इसकी शिकायत कर चुके थे। अब पुलिस जांच में पूरी सच्चाई सामने आ गई है। महज एक व्यक्ति को फंसाने के लिए फेक आईडी बनाकर, पड़ोसी के वाईफाई का सहारा लेकर मुख्यमंत्री के लिए अभद्र पोस्ट डाली गई। वहीं, जिस फेसबुक पेज से धमकी मिल रही थी, उसकी प्रोफाइल पिक्चर पर पाकिस्तान का झंडा लगा था।
 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार और रविवार को मुरादाबाद मंडल के दौरे पर है। सूबे के मुखिया के सिर कलम करने वाले को इनाम देने की घोषणा करने वाला अब पुलिस गिरफ्त में है और जेल की हवा खाएगा। वहीं, मुख्यमंत्री के आगमन से पहले इस प्रकरण का खुलासा होने पर पुलिस ने राहत की सांस ली है।
ये भी पढ़ें
सुनक और ट्रस के बीच पीएम पद की दौड़ में अंतिम चरण का मतदान संपन्न, परिणाम सोमवार को