PM के मन की बात से मिली प्रेरणा, कानपुर की धरती पर लहलहाई अमेरिकन केसर, YouTube से लिखी कामयाबी की कहानी

अवनीश कुमार| Last Updated: सोमवार, 8 फ़रवरी 2021 (10:37 IST)
देहात। कहते हैं अगर कुछ करने की मन में ठान लिया जाए तो वह काम जरूर पूरा होकर रहता है। ऐसा ही कुछ में देखने को मिला है जहां एक किसान ने खेतों में को उगाने का मन बनाया था और उस सपने को किसान ने पूरा भी कर दिया है। इसके बाद पूरे जनपद में किसान की इस अनोखी पहल की चर्चा हो रही है और अन्य किसान भी इस किसान से प्रेरणा लेकर अमेरिकन केसर उगाने के काम में जुट गए हैं।
यूट्यूब पर देखकर सीखी खेती : कानपुर देहात के सरवनखेड़ा विकासखंड क्षेत्र के हिलौठी गांव के रहने वाले किसान चंद्रभूषण ने परंपरागत खेती से हटकर एक बीघे में अमेरिकन केसर की फसल तैयार की है। चंद्रभूषण ने अमेरिकन केसर की खेती करने का कार्य प्रधानमंत्री मोदी की मन की बात से प्रभावित होकर यूट्यूब की मदद से शुरू की थी।

किसान चंद्रभूषण ने बताया कि सोशल मीडिया से केसर की खेती करने के तरीके को पहले सीखा और फिर ऑनलाइन कोरियर सुविधा बीज मंगाकर बुवाई का कार्य किया। चंद्रभूषण ने बताया कि जिस तरीके से यूट्यूब में जानकारी दी जा रही थी। मैंने उसी तरीके से खेत को तैयार किया और फिर अमेरिकन केसर के बीजों को डालना शुरू कर दिया कितना पानी देना था और कितनी दूरी पर रखना था। यह सारी जानकारी यूट्यूब के माध्यम से मिली थी और उसी का नतीजा है कि अब खेतों में अमेरिकन केसर की फसल लहलहा रही है।
दूसरे किसानों के लिए बने मिसाल
:
किसान चंद्रभूषण ने बताया कि पहले मेरी इस पहल पर मेरे आसपास के किसानों ने गौर नहीं किया, लेकिन जब फसल खेतों में लहलहा लगी तो अब वे किसान अमेरिकन केसर के बारे में जानकारी लेने आ रहे हैं और मैं सभी को अमेरिकन केसर को लगाने की जानकारी दे रहा हूं और जल्द ही कानपुर देहात के अंदर अमेरिकन केसर की खेती बड़े रूप में देखने को मिलेगी।
क्या बोलीं सीडीओ कानपुर देहात : मुख्य विकास अधिकारी सौम्या पांडे ने बताया कि किसान चंद्रभूषण ने आत्मा निर्भर भारत का बहुत सुंदर उदाहरण प्रस्तुत किया है। किसान चंद्रभूषण देश के प्रधानमंत्री के कार्यक्रम मन की बात को सुनने के बाद और यूट्यूब के माध्यम से अमेरिकन केसर की खेती की है। चंद्रभूषण के इस प्रयास से अन्य किसानों को भी प्रेरणा मिलेगी और आय में भी बढ़ोतरी होगी। मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि किसान गोष्ठी में किसान चंद्रभूषण सम्मानित भी किया जाएगा और सरकार के द्वारा जो भी अनुदान किसानों को मिलता होगा वह सब भी उपलब्ध कराया जाएगा।



और भी पढ़ें :