अयोध्या में चलेंगे बुलडोजर, 200 दुकानों और भवनों को गिराने का नोटिस

हिमा अग्रवाल| पुनः संशोधित मंगलवार, 12 जुलाई 2022 (12:41 IST)
हमें फॉलो करें
अयोध्या। अयोध्या जिला प्रशासन ने हनुमान गढ़ी के नजदीक की सड़क को चौड़ा करने का फैसला किया है, जिसके लिए मार्ग के चौड़ीकरण में आने वाली 200 दुकानों को तोड़ने का निर्णय लिया गया है। इसके चलते प्रशासन ने दुकानदारों को अलर्ट करते हुए सायरन बजाकर मुनादी करवाते हुए चिन्हित भवन, और मकानों को खाली करने के लिए कहा है। इस मुनादी को सुनकर व्यापारी घबरा गए और उन्होंने इसका विरोध किया।

रामनगरी अयोध्या में श्रृंगार हाट से लेकर राम जन्मभूमि तक सड़क चौड़ीकरण योजना के तहत दुकानों हटाने के स्थानीय जिला प्रशासन ने दुकानदारों को 3 दिन का समय देते हुए मार्ग में चिन्हित 200 दुकानों का हटाने का नोटिस दिया है। यदि दुकान मालिक, किरायेदार बुधवार तक स्वतः दुकान नही हटाता तो की कार्रवाई करते हुए दुकान तोड़ दी जायेंगी, जिससे दुकानदार नाराज है।
अयोध्या प्रशासन द्वारा की जा रही मुनादी में साफतौर से कहा जा रहा है कि भवन स्वामियों को पहले ही जगह खाली करने की एवज में मुआवजा दिया जा चुका है।

अयोध्या जिले में नए घाट से लेकर सहादतगंज और श्री राम जन्म भूमि तक जाने वाली सभी सड़कों का चौड़ीकरण किया जाना है। मार्ग के चौड़े किये जाने में मंदिर, मकान, भवन और दुकान आ रही हैं, इन जगहों के स्वामियों को पहले नोटिस दिया जा चुका है। प्रथम चरण में श्रृंगारहाट से लेकर श्री राम जन्मभूमि तक की सड़क का चौड़ीकरण होना है।

यहां की संकरी सड़क पर दोनों तरफ दुकानें है, जिनको हटाना अयोध्या प्रशासन के लिए चुनौती है, इसलिए प्रशासन मार्ग चौड़ीकरण में आने वाली दुकानों को नोटिस और मुआवजा दे दिया है, लेकिन उसके बावजूद लोग दुकान और भवन खाली नही कर रहें है। प्रशासन ने अंतिम मुनादी करवाते हुए 13 जुलाई तक चिन्हित दुकान, घर और भवन को खाली करने का आदैश दिया है, अन्यथा प्रशासन इन्हें बुलडोजर से ध्वस्त कर देगा।



और भी पढ़ें :