गुरुवार, 25 जुलाई 2024
  • Webdunia Deals
  1. खेल-संसार
  2. टी-20 विश्व कप 2021
  3. टी-20 विश्व कप न्यूज
  4. Shakib Al Hasan ruled out of T 20 world cup
Written By
Last Updated : सोमवार, 1 नवंबर 2021 (19:59 IST)

टी-20 का नंबर 1 ऑलराउंडर और सबसे ज्यादा विकेट चटकाने वाला खिलाड़ी हुआ टी-20 विश्वकप से बाहर

टी-20 का नंबर 1 ऑलराउंडर और सबसे ज्यादा विकेट चटकाने वाला खिलाड़ी हुआ टी-20 विश्वकप से बाहर - Shakib Al Hasan ruled out of T 20 world  cup
दुबई:बांग्लादेश के स्टार हरफनमौला शाकिब अल हसन हैमस्ट्रिंग चोट से उबर नहीं पाने के कारण टी20 विश्व कप से बाहर हो गए हैं। कई मीडिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई।

34 वर्ष के शाकिब टूर्नामेंट में बुरी तरह नाकाम रहे हैं। बल्लेबाजी में उन्होंने कोई कमाल नहीं किया और गेंदबाजी में दो ही विकेट ले पाये। ईएसपीएन क्रिकइन्फो की रिपोर्ट के अनुसार ,‘‘ उसे हैमिस्ट्रिंग में लगी चोट ठीक नहीं हो सकी है ।यह चोट वेस्टइंडीज के खिलाफ लगी थी।’’

बांग्लादेश स्थित वेबसाइट ‘बीडी क्रिकटाइम’ ने अज्ञात सूत्रों के हवाले से कहा कि शाकिब अपने परिवार के पास अमेरिका जायेंगे।सूत्र ने कहा ,‘‘ शाकिब चोट से उबर नहीं सके हैं। वह अगले दो मैच नहीं खेलेंगे। वह कल या परसो टीम होटल छोड़ देंगे। वह अपने परिवार के पास अमेरिका जायेंगे।’’

शाकिब को शुक्रवार को वेस्टइंडीज के खिलाफ मैच में चोट लगी जिसमें बांग्लादेश तीन रन से हार गया।बांग्लादेश को दो नवंबर को दक्षिण अफ्रीका से और चार नवंबर को ऑस्ट्रेलिया से खेलना है।हालांकि अब बांग्लादेश के लिए यह टी-20 विश्वकप एक औपचारिकता ही है क्योंकि वह 3 हार के बाद इस टूर्नामेंट से बाहर हो गई है।

टी20 विश्व कप में सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज बने शाकिब

इस टी-20 विश्वकप में बांग्लादेश के स्टार आलराउंडर शाकिब अल हसन पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी को पीछे छोड़कर टी20 विश्व कप के इतिहास में सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गये थे।

शाकिब ने पिछले रविवार को श्रीलंका के खिलाफ सुपर 12 मैच में पथुम निसांका को आउट करके यह उपलब्धि हासिल की थी। शाकिब ने इस मैच से पहले 28 मैचों में 39 विकेट लिये थे।

ओमान के खिलाफ नौ रन देकर 4 विकेट लेने वाले शाकिब ने पहले निसांका को आउट करके अफरीदी को पीछे छोड़ा और फिर अविष्का फर्नांडो के रूप में अपना 41वां विकेट हासिल किया था।

अफरीदी ने 34 मैचों में 39 विकेट लिये थे। शाकिब टी20 अंतरराष्ट्रीय में भी सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाजों की सूची में शीर्ष पर हैं। उन्होंने टी-20 अंतरराष्ट्रीय में 117 विकेट चटकाए हैं।


शाकिब के विश्व कप से बाहर होने के बावजूद डोमिंगो आशावादी

बंगलादेश क्रिकेट टीम के मुख्य कोच रसेल डोमिंगो ने सोमवार को कहा कि शाकिब अल हसन को खोना एक बड़ी क्षति है, क्योंकि टीम टीम को उनके ऑलराउंड कौशल के अलावा दबाव की परिस्थितियों में उनके नेतृत्व गुणों की कमी खलेगी, हालांकि इसके बावजूद वह आशावादी हैं।

डोमिंगो ने यहां सोमवार को संवाददाताओं से बातचीत के दौरान कहा, “ जाहिर तौर पर शाकिब टीम के संतुलन के लिए एक बड़ा नुकसान हैं, लेकिन हमारे पास अपने शेष दो मैचों के लिए विकल्प हैं। बेशक टीम को उनके नेतृत्व और दबाव की स्थिति में उनकी समझ की भी कमी खलेगी। जब वह नहीं खेलते हैं तो आप बल्लेबाज या गेंदबाज की ओर रुख करते हैं। उनकी जगह टीम में आने वाले खिलाड़ी को एक पार्ट टाइम गेंदबाज की भूमिका भी निभानी पड़ सकती है। शाकिब के चले जाने से कल के मैच में किसी खिलाड़ी को अपना पहला विश्व कप खेलने का मौका मिलेगा। ”

कोच ने कहा, “ वेस्ट इंडीज के खिलाफ मैच के बाद हमारे बीच अच्छी चर्चा हुई। श्रीलंका और वेस्ट इंडीज के खिलाफ दो छोटी हार के बाद मनोबल काफी कम हो गया है। इस विश्व कप में शायद हमारी उम्मीद खत्म हो गई है, लेकिन हमारे पास कल के मैच में करने के लिए बहुत कुछ है। खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। बंगलादेश ने टी-20 विश्व कप के दूसरे चरण में अब तक केवल एक मैच जीता है। इस रिकॉर्ड में सुधार करने का अवसर है। यह हमारे लिए एक बड़ा कदम होगा। हमें कल अपना खाता खोलना है। ”

उल्लेखनीय है कि शाकिब हैमस्ट्रिंग की चोट के कारण मौजूदा आईसीसी टी-20 विश्व कप से बाहर हो गए हैं। चाेट के कारण टूर्नामेंट से बाहर होने वाले वह बंगलादेश के दूसरे खिलाड़ी हैं। इससे पहले बंगलादेश के तेज गेंदबाज मोहम्मद सैफुद्दीन कमर में दर्द की वजह से विश्व कप से बाहर हो गए थे, हालांकि उनकी जगह रिप्लेसमेंट खिलाड़ी के तौर पर रुबेल हुसैन को 15 सदस्यीय टीम में शामिल किया गया था, लेकिन समझा जाता है कि टीम प्रबंधन शेष टूर्नामेंट के लिए शाकिब की जगह पर रिप्लेसमेंट (प्रतिस्थापन) खिलाड़ी नहीं चुनेगा। टीम प्रबंधन और काेच डोमिंगो का इस मामले में एक जैसा रवैया है। बंगलादेश टीम कल अपने चौथे मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका से भिड़ेगी, हालांकि वह सुपर 12 में लगातार तीन हार के कारण सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर है।