Lockdown से मिले इस समय का उपयोग अपने प्रदर्शन में सुधार करने के काम आएगा : सुनील

पुनः संशोधित गुरुवार, 16 अप्रैल 2020 (19:50 IST)
बेंगलुरु। के कारण देशभर में लागू हुए के बीच के अनुभवी फॉरवर्ड का मानना है कि इस दौरान टीम को अपना प्रदर्शन बेहतर करने का मौका मिलेगा।कोरोना के खतरे को देखते हुए देशभर में खेल गतिविधियां ठप्प पड़ी हुई है और इस दौरान खिलाड़ी अपने घर या ट्रेनिंग सेंटर पर रहकर ट्रेनिंग कर रहे हैं।

सुनील ने कहा, 'हम यहां भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) में पिछले एक महीने से ज्यादा समय से रह रहे हैं और मेरे ख्याल से अपने टीम के खिलाड़ियों और कोचिंग स्टाफ के साथ ज्यादा समय बिताना टीम के लिए अच्छा है। हम इस दौरान अपने पिछले प्रदर्शन का विश्लेषण कर रहे हैं और मुझे भरोसा है कि खेल शुरु होने से पहले यह हमारे प्रदर्शन में सुधार में मददगार साबित होगा।'

भारतीय टीम के लिए क्वालीफाई कर चुकी है जो 2021 तक के लिए स्थगित किए जा चुके हैं। की भी इस समय स्थगित है। ओलंपिक स्थगित होने के समय भारतीय टीम बेंगलुरु स्थित साई सेंटर में ट्रेनिंग कर रही थी। देश में लॉकडाउन लगाने के कारण हॉकी टीम सेंटर में रह गई है।खिलाड़ी सेंटर कोरोना को लेकर दिशा निर्देशों का पालन कर रहे हैं।

अगले महीने 31 वर्ष के होने जा रहे सुनील ने कहा, 'हमें लग रहा था कि लॉकडाउन की अवधि बढ़ेगी और कोरोना के खतरे को देखते हुए यह जरुरी भी है क्योंकि इससे ना सिर्फ भारत बल्कि पूरी दुनिया को खतरा है।'

सुनील अपनी पत्नी और परिवार से महज 20 किलोमीटर की दूरी पर हैं लेकिन हालात को देखते हुए वह उनसे नहीं मिल सकते। सुनील ने कहा, 'ज्यादातर खिलाड़ी अपने परिवार के साथ रहना चाहते हैं और मेरा घर भी यहां से ज्यादा दूर नहीं हैं।'

सुनील ने कहा, 'घर के करीब होने के बावजूद मैंने और मेरी पत्नी ने तय किया है कि परिवार की भलाई के लिए हम फिलहाल अलग रहें और दिशार्निर्देशों का पालन करें। मैं अपनी पत्नी और बेटी को याद करता हूं लेकिन हालात को देखते हुए हमें ऐसे ही चलना होगा।'

कोरोना के खतरे पर उन्होंने कहा, 'मुझे याद है कि 2010 और 2018 विश्व कप से पहले मैं चोटिल हो गया था और दोनों ही मौकों पर टूर्नामेंट नहीं खेल पाया था। लेकिन अगर मैं इस हालात से इसकी तुलना करुं तो मैं काफी भाग्यशाली था जिसे सिर्फ चोट लगी थी और जान की खतरा नहीं था। मैं उम्मीद करता हूं कि सभी लोग अपना ध्यान रखें और ऐसे कठिन दौर में एकजुट रहें। यह समय जल्द ही बीत जाएगा।'

ओलंपिक 2021 तक स्थगित किए जाने को लेकर सुनील ने कहा, 'हमने पिछले चार साल ओलंपिक के लिए काफी मेहनत की लेकिन अंत में इसे स्थगित करना पड़ा। लेकिन हमें हालात के हिसाब से चलना होगा जिसके लिए हम तैयार हैं।'

उन्होंने कहा, 'अभी ओलंपिक के लिए अच्छा खासा वक्त बचा है जिसका मतलब है कि हमारे पास तैयारियों के लिए काफी समय है। हम इस दौरान अपने खेल को सुधार सकते हैं।' सुनील ने कहा, 'मुझे हॉकी खेले काफी समय हो गया है और मैं उम्मीद करता हूं कि सबकुछ जल्द ही सामान्य हो जाएगा और सभी लोग वो सब करेंगे जो उन्हें पसंद है तथा मैं जल्द ही मैदान पर वापसी करुंगा।' (वार्ता)



और भी पढ़ें :