अगले साल भी ओलंपिक के आयोजन में कई कठिन चुनौतियां

tokyo olympics
Last Updated: शुक्रवार, 22 मई 2020 (14:55 IST)
सिडनी। एक सीनियर ओलंपिक अधिकारी ने चेताया है कि स्थगित हो चुके को अगले साल भी कराने में कई कठिन चुनौतियां है खासकर जब कोरोना वायरस का वैक्सीन भी नहीं आया है। अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के वरिष्ठ अधिकारी जॉन कोट्स ने कहा कि अधिकारी अक्टूबर में यह तय करना शुरू करेंगे कि जुलाई 2021 में ओलंपिक कैसे होगा।

उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई मीडिया समूह न्यूज कोर की एक परिचर्चा में कहा कि जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने साफ तौर पर कहा है कि टोक्यो ओलंपिक दूसरी बार टाले नहीं जा सकते। उन्होंने कहा, ‘हम इन्हें दोबारा स्थगित नहीं कर सकते। हम यह मानकर चलते हैं कि इसका कोई वैक्सीन नहीं है और अगर है भी तो सबको नहीं मिल सकता।’

कोट्स ने कहा कि ऐसे हालात में दुनिया भर से लाखों लोगों की मौजूदगी में ओलंपिक कैसे हो सकेंगे जिसमें 206 देशों के खिलाड़ी शामिल होंगे। उन्होंने कहा, ‘11000 खिलाड़ी, 5000 तकनीकी अधिकारी और कोच, 20000 मीडिया और 4000 आयोजन समिति के सदस्यों के अलावा 60000 वालिंटियर। इतने सारे लोग होंगे।’ (भाषा)


और भी पढ़ें :