टोक्यो ओलम्पिक के लिए भारतीय निशानेबाजी टीम घोषित

पुनः संशोधित रविवार, 4 अप्रैल 2021 (22:08 IST)
नई दिल्ली:
भारतीय राष्ट्रीय राइफल संघ ने इस साल जुलाई अगस्त में होने वाले के लिए रविवार को 15 सदस्यीय भारतीय टीम की घोषणा कर दी।
चयन समिति की रविवार को पांच घंटे से अधिक समय तक चली बैठक के बाद प्रत्येक योग्य इवेंट के लिए कोविड 19 महामारी के मद्देनजर 14 रिज़र्व निशानेबाजों की भी घोषणा की गयी। महिला 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में विश्व की मौजूदा नंबर एलवेनिल वलारिवान टीम में चुनी गयी एकमात्र ऐसी एथलीट हैं जिन्होंने राष्ट्रीय टीम द्वारा हासिल 15 कोटा में से एक भी हासिल नहीं किया है। वह इस स्पर्धा में अंजुम मुद्गिल द्वारा हासिल कोटे का इस्तेमाल करेंगी ।
राष्ट्रीय चयन समिति ने यह भी फैसला किया कि चिंकी यादव के महिला 25 मीटर पिस्टल में हासिल कोटे को अंजुम मुद्गिल से बदल दिया जाए ताकि अंजुम महिलाओं की 50 मीटर राइफल 3 पोजीशन स्पर्धा में पूर्व विश्व चैंपियन तेजस्विनी सावंत के साथ भारत की दूसरी प्रविष्टि के रूप में हिस्सा ले सकें। उल्लेखनीय है कि किसी देश द्वारा जीता गया कोटा उसी जेंडर के अंदर बदला जाता है।

चयन समिति का महसूस करना है कि महिला 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा की निशानेबाज मनु भाकर महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल और 25 मीटर पिस्टल व्यक्तिगत स्पर्धाओं दोनों में हिस्सा लेंगी।
अंजुम मिश्रित एयर टीम राइफल टीम स्पर्धा में दीपक कुमार के साथ इस स्पर्धा में भारत की दूसरी टीम के रूप में हिस्सा लेंगी जबकि एलवेनिल और दिव्यांश इस स्पर्धा में पहली जोड़ी रहेंगे। अपूर्वी चंदेला केवल महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल व्यक्तिगत स्पर्धा में ही हिस्सा लेंगी।

एनआरएआई के अध्यक्ष रणइंदर सिंह ने टीम पर अपनी प्रतिक्रिया में कहा, “चयन समिति का पूरा ध्यान इन खेलों के लिए एक मजबूत टीम चुनने पर लगा हुआ था और उन्होंने पूरी कोशिश लकी कि प्रत्येक स्पर्धा में लगातार परफॉर्म करने वाले निशानेबाज चुने जाएं और कोई छूटे नहीं। मेरा मानना है कि चयन समिति ने अपना काम बखूबी किया है और ओलम्पिक में इसके अच्छे परिणाम देखने को मिलेंगे। ” (वार्ता)



और भी पढ़ें :