उदयपुर की घटना के बाद यूपी में अलर्ट, DGP ने कहा- सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट किया तो होगी कार्रवाई

अवनीश कुमार| Last Updated: बुधवार, 29 जून 2022 (19:13 IST)
हमें फॉलो करें
लखनऊ। राजस्थान में हुई हिंसक घटना के बाद शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए उत्तर प्रदेश में पुलिस व प्रशासन मोड में आ गया और प्रदेश में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। प्रदेश के जिले के पुलिस अधिकारी लगातार पुलिस बल के साथ भ्रमण कर हर गतिविधि पर पैनी नजर रखे हुए हैं।
जिसके चलते लखनऊ,कानपुर,उन्नाव,सीतपुर,कानपुर देहात, इटावा,औरैया,कन्नौज, मेरठ,बुलंदशहर,अलीगढ़ इत्यादि जगहों पर जिले के पुलिस अधीक्षक मय पुलिस बल के भ्रमण करते हुए नजर आ रहे हैं। वे कानून व्यवस्था बनाए रखने व किसी भी तरह की अफवाह को न फैलने देने को लेकर ड्यूटीरत पुलिसबल को आदेशित व निर्देशित कर रहे हैं।

अमन-चैन और शांति बनाए रखे : प्रदेश में सुरक्षा को लेकर जिले के पुलिस अधीक्षक भारी पुलिस बल के साथ अकबरपुर में सड़क पर मार्च कर लोगों को सुरक्षा का अहसास कर रहे हैं, साथ ही शांति बनाए रखने में पुलिस व प्रशासन का सहयोग करने तथा अफवाहों से बचने का आह्वान भी कर रहे हैं।

वे आम लोगों को जागरूक करते हुए यह संदेश भी दे रहे हैं कि किसी भी प्रकार की अफवाहों पर विश्वास न करें। किसी भी वक्त संदेह होने पर तत्काल प्रभाव से पुलिस को सूचित करें और प्रदेश में अमन-चैन और शांति बनाए रखें।

सुरक्षा की दृष्टि से प्रशासन सतर्क : राजस्थान के में नूपुर शर्मा का समर्थन करने पर टेलर की हत्या व प्रधानमंत्री को धमकी दिए जाने के बाद से हिन्दू संगठनों में नाराजगी देखने को मिले रही है।जिसके बाद से देश व प्रदेश में पुलिस अलर्ट मोड में है।

जिसके चलते उत्तर प्रदेश में भी प्रशासन सतर्क हो गया है तथा किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए सघन बस्तियों, संयुक्त आबादी वाले स्थलों व नगरीय क्षेत्रों में चौकसी बढ़ा दी गई है।इसके साथ ही शरारती तत्वों पर नजर रखने के लिए खुफिया तंत्र को भी सक्रिय कर दिया गया है।

क्या बोले डीजीपी : उत्तर प्रदेश के डीजीपी देवेंद्र सिंह चौहान ने बताया कि राजस्थान के उदयपुर में घटित घटना के परिप्रेक्ष्य में यूपी पुलिस के बहादुर जवान कानून व्यवस्था बनाए रखने हेतु फ़ील्ड में मुस्तैद हैं।

उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट करने वाले व्यक्तियों के विरुद्ध सख़्त कार्रवाई की जाएगी। इसलिए किसी भी प्रकार की कोई भी भड़काऊ टिप्‍पणी सोशल मीडिया पर न करें। प्रदेश में अमन-चैन और शांति बनाए रखें।



और भी पढ़ें :