पश्चिम बंगाल में 11 नवंबर से शुरू होंगी 696 उपनगरीय ट्रेन सेवाएं

Last Updated: सोमवार, 9 नवंबर 2020 (20:48 IST)
कोलकाता। रेलवे ने लगभग 8 महीनों बाद 11 नवंबर से में 696 उपनगरीय ट्रेन सेवाएं शुरू करने का फैसला लिया है। इसे लेकर रेलवे ने राज्य सरकार से लोकल ट्रेनों का परिचालन शुरू होने के मद्देनजर पर्याप्त सुरक्षा उपाय सुनिश्चित करने का आग्रह किया है।
ने रविवार को इस संबंध में ट्वीट किया, रेलवे 11 नवंबर से पश्चिम बंगाल में उपनगरीय सेवाओं को फिर से शुरू करेगी। संबंधित रेलवे स्टेशनों पर पर्याप्त सुरक्षा उपायों के साथ इससे यात्री सुविधाएं बढ़ेंगी और लोगों के लिए सहज यात्रा की सुविधा उपलब्ध होगी।

रेलवे के इस फैसले के मद्देनजर पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव और गृह सचिव ने सोमवार को 10 जिला मजिस्ट्रेट और पुलिस अधीक्षकों के साथ एक वर्चुअल बैठक की, जिसमें उन्हें अपने अधिकार क्षेत्र के अंतर्गत रेलवे स्टेशनों में सुरक्षा व्यवस्था और कोरोनावायरस प्रोटोकॉल को बनाए रखने के निर्देश दिए गए।

हावड़ा मंडल रेल प्रबंधक (डीआरएम) के मुताबकि उपनगरीय ट्रेनों की सीजन टिकटों की वैधता जो समाप्त हो गई है, उन्हें फिर उनकी वैधता के दिनों तक बढ़ा दिया जाएगा। हावड़ा मंडल में संबंधित रेलवे स्टेशनों पर सोमवार से टिकट का पुन: सत्यापन फिर से शुरू हो गया है।

के आग्रह पर पूर्वी रेलवे ने चरणबद्ध तरीके से ट्रेन सेवाओं को बहाल करने की योजना बनाई है। शुरुआत में सियालदह डिवीजन पर 413 और हावड़ा डिवीजन पर 202 ट्रेनों को बहाल किया जाएगा। सियालदह डिवीजन में 413 ट्रेनों में से 270 ट्रेनें सियालदह मेन/ नॉर्थ, जबकि 143 सियालदह साउथ सेक्शन में चलेंगी। इन सभी उपनगरीय ट्रेनों की समय सारणी 11 नवंबर से संबंधित रेलवे स्टेशनों और पूर्वी रेलवे की वेबसाइट पर उपलब्ध होगी।
पूर्वी रेलवे के ऊपर उपनगरीय ईएमयू ट्रेन सेवाओं के शुरू होने के दिन से यानी 11 नवंबर 2020 से सामान्य यात्रा टिकट बुकिंग काउंटर पर उपलब्ध होंगे। टिकट केवल उपनगरीय खंड और कृष्णानगर-लालगोला खंड के भीतर यात्रा के लिए उपलब्ध होंगे।(वार्ता)



और भी पढ़ें :