रामायण के दिनों में भी था 'पुष्पक विमान', अर्जुन के तीरों में थी परमाणु शक्ति : जगदीप धनखड़

Last Updated: बुधवार, 15 जनवरी 2020 (08:12 IST)
कोलकाता। पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने मंगलवार को दावा किया कि के दिनों में भी 'पुष्पक विमान' था और महाभारत के के तीरों में परमाणु शक्ति थी।
ALSO READ:
US-Iran तनाव, भारत ने जारी की एडवाइजरी, विमानों ने बदले मार्ग
यहां एक कार्यक्रम में धनखड़ ने कहा कि यह 20वीं सदी में नहीं, बल्कि रामायण के दिनों में हमारे पास था। संजय ने महाभारत का पूरा युद्ध धृतराष्ट्र को सुनाया, लेकिन टीवी देखकर नहीं। महाभारत में अर्जुन के तीरों में परमाणु शक्ति थी।
महाकाव्य महाभारत में ऐसा प्रसंग है कि कुरुक्षेत्र के युद्ध के दौरान संजय ने हस्तिनापुर में बैठकर दृष्टिबाधित नरेश धृतराष्ट्र को आंखों देखा हाल सुनाया था। इसके लिए संजय के पास दिव्य दृष्टि जैसी कोई शक्ति थी।



और भी पढ़ें :