महाराष्ट्र सरकार ने फडणवीस सहित 11 नेताओं की सुरक्षा घटाई, 16 की वापस ली, 2 की बढ़ाई, 13 नए लोगों को दी

पुनः संशोधित रविवार, 10 जनवरी 2021 (18:33 IST)
मुंबई। ने विधानसभा में विपक्ष के नेता और उनके परिवार, उत्तरप्रदेश के पूर्व राज्यपाल राम नाइक, महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे की सुरक्षा घटा दी है, वहीं भाजपा की राज्य इकाई के प्रमुख चंद्रकांत पाटिल की सुरक्षा वापस ले ली है।
राज्य भाजपा प्रवक्ता केशव उपाध्याय ने इसे ‘बदले की राजनीति’ करार दिया, वहीं फडणवीस ने कहा कि इससे यात्रा करने और लोगों से मिलने की योजना पर असर नहीं पड़ेगा। अधिसूचना के अनुसार सरकार ने 2 लोगों की सुरक्षा बढ़ाई है, 11 की सुरक्षा कम की गई है, 16 लोगों की सुरक्षा वापस ली गई है, वहीं 13 नए लोगों को सुरक्षा दी गई है।
ALSO READ:
इंग्लैंड के खिलाफ पहले 2 टेस्ट से रवींद्र जडेजा बाहर, सोमवार को कर सकते हैं बल्लेबाजी
जारी सरकारी अधिसूचना के अनुसार फडणवीस को अब ‘जेड-प्लस’ श्रेणी की बजाय ‘एस्कॉर्ट के साथ वाई-प्लस श्रेणी’ की सुरक्षा मिलेगी। वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री की पत्नी अमृता फडणवीस और बेटी दिविजा की सुरक्षा ‘एस्कॉर्ट के साथ वाई-प्लस’ श्रेणी से घटाकर ‘एक्स’ श्रेणी कर दी गई है।

उत्तरप्रदेश के पूर्व राज्यपाल राम नाइक को अब ‘वाई-प्लस’की बजाय ‘वाई’ श्रेणी की सुरक्षा मिलेगी। मनसे प्रमुख की सुरक्षा ‘जेड’ श्रेणी से घटाकर ‘एस्कॉर्ट के साथ वाई प्लस’ श्रेणी की कर दी गई है। भाजपा नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे, राज्य भाजपा प्रमुख चंद्रकांत पाटिल और पार्टी के वरिष्ठ नेता सुधीर मुनगंटीवार की सुरक्षा वापस ले लिए गई है।

राणे के पास ‘वाई-प्लस’ श्रेणी की सुरक्षा थी। इसके अलावा राज्य लोकायुक्त एमएल टाहिलियानी की सुरक्षा ‘जेड’ श्रेणी से घटाकर ‘वाई’ श्रेणी की कर दी गई है।
सुरक्षा प्राप्त करने के लिए नए लोगों में राज्य के उपमुख्यमंत्री अजीत पवार की पत्नी सुनेत्रा पवार, और युवा सेना के सचिव वरुण सरदेसाई शामिल हैं। सरदेसाई मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की पत्नी रश्मि ठाकरे के रिश्तेदार हैं। दोनों को ‘एक्स’ श्रेणी की सुरक्षा दी गई है।
(भाषा)



और भी पढ़ें :