1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. प्रादेशिक
  4. Maharashtra Gange rape case : She endured the pain of gang rape for 6 months
Written By
पुनः संशोधित शुक्रवार, 24 सितम्बर 2021 (20:33 IST)

वह 6 माह तक सहती रही गैंगरेप की पीड़ा, फिर हिम्मत जुटाकर मां को बताई आपबीती...

मुंबई। ठाणे पुलिस के विशेष जांच दल (एसआईटी) ने 15 साल की लड़की के कथित सामूहिक दुष्कर्म मामले में नवी मुंबई से 2 और लोगों को गिरफ्तार किया है। नाबालिग लड़की के साथ छह माह के भीतर 5 बार गैंगरेप की वारदात हुई। 
 
पहली बार 4 लोगों ने किया दुष्कर्म : पुलिस को दिए गए पीड़िता के बयान के मुताबिक, उसकी मुलाकात मुख्य आरोपी विजय फुके और तुषार कसबे से दिसंबर 2020 में एक मित्र के जरिए हुई थी और फुके ने उसके साथ फोन पर बातचीत शुरू कर दी। 29 जनवरी को फुके ने पीड़िता को डोम्बिवली पूर्व में एक जगह पर बुलाया और उसे ऑटो में यह कहकर ले गया कि वे एक मित्र से मिलने जा रहे हैं।
 
पीड़िता ने आरोप लगाया कि फुके उसे किसी अन्य स्थान पर ले गया जहां फुके समेत 4 लोगों ने उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया। उसने आरोप लगाया कि आरोपियों ने यौन उत्पीड़न की तस्वीरें और वीडियो वायरल करने की धमकी देकर उसे ब्लैकमेल किया।
 
दूसरी बार 8 लोगों ने की दरिंदगी : उसने आरोप लगाया कि फरवरी में उसका परिवार किसी अन्य स्थान पर रहने चला गया, जिसके बाद 20 फरवरी को फुके ने उसे फोन कर मिलने बुलाया। आरोप है कि इससे इंकार करने पर फुके अगले दिन उसके नए घर के पास आया और परिवार के सदस्यों को वीडियो दिखाने की बात कहकर उसे धमकाया। पीड़िता ने पुलिस को बताया कि डर के कारण वह फुके के साथ जाने को राजी हुई और इस बार कथित तौर पर कम से कम 8 लोगों ने उसका यौन उत्पीड़न किया।
 
उसने दावा किया कि इसी तरह की घटनाएं उसके साथ 22 मार्च, 5 और 16 मई, 28 जुलाई और 22 सितंबर को भी हुईं। उसने दावा किया कि कई बार उसे बलात्कार से पहले नशीला पदार्थ भी दिया गया।
 
बयान के मुताबिक, 5 मई को जब वह रात में घर नहीं लौटी तो उसकी मां ने पुलिस में गुमशुदगी की शिकायत भी दर्ज कराई थी। हालांकि, वह अगले दिन वापस आ गई थी और अपने माता-पिता को कुछ नहीं बताया। बाद में उसने हिम्मत कर 22 सितंबर को पूरी आपबीती अपनी मां को बताई, जिसके बाद मुकदमा दर्ज कराया गया।
 
अब तक 28 गिरफ्त में, 2 नाबालिग : इसके साथ ही मामले के संबंध में गिरफ्तार किए गए लोगों की संख्या बढ़कर 26 हो गई है, जबकि दो नाबालिगों को भी हिरासत में लिया गया है। लड़की के साथ ये कथित घटनाएं इस साल 29 जनवरी और 22 सितंबर के बीच डोम्बिवली, बदलापुर, मुर्बाद और रबाले समेत अलग-अलग स्थानों पर हुई। पुलिस ने बताया कि पीड़िता ने 33 आरोपियों के नाम बताए हैं।
 
पुलिस अधिकारी ने कहा कि पुलिस ने इस मामले में दो और लोगों को गिरफ्तार किया है। दोनों को बृहस्पतिवार रात नवी मुंबई से पकड़ा गया। अभी तक 26 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और दो नाबालिगों को हिरासत में लिया गया है। बाकी आरोपियों की तलाश की जा रही है। उन्होंने बताया कि मामले में मुख्य आरोपी को पहले ही गिरफ्तार कर लिया गया है।
 
लड़की की शिकायत पर डोम्बिवली में मनपाडा पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 376 (दुष्कर्म), 376 (एन) (बार-बार दुष्कर्म), 376 (डी) (सामूहिक दुष्कर्म), 376 (3) (16 साल की आयु तक की लड़की से दुष्कर्म) और बाल यौन अपराध संरक्षण (पॉक्सो) अधिनियम की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।
ये भी पढ़ें
बातचीत के दौरान पीएम नरेन्द्र मोदी और राष्ट्रपति जो बाइडेन ने क्या कहा....