अगले 12 घंटे में चक्रवाती तूफान में तेजी, 4 दिसंबर को तमिलनाडु तट को पार करेगा

Last Updated: मंगलवार, 1 दिसंबर 2020 (22:51 IST)
चेन्नई। बंगाल की खाड़ी में दक्षिण-पश्चिम और दक्षिण-पूर्व तथा आसपास के क्षेत्र पर बने रहे गहरे दबाव से अगले 12 घंटों में के तेजी से आगे बढ़ने की आशंका जताई गई है और 4 दिसंबर की सुबह तूफान तमिलनाडु के कन्याकुमारी और तट को पार कर जाएगा।
ALSO READ:
तमिलनाडु में फिर चक्रवाती तूफान की आशंका
ने मंगलवार को यहां एक बुलेटिन में बताया कि बंगाल की खाड़ी में गहरे दबाव के कारण पिछले 6 घंटों के दौरान 13 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार के साथ तूफान आगे बढ़ रहा है। मौजूदा समय में तूफान श्रीलंका के त्रिंकोमाली से लगभग 460 किलोमीटर पूर्व-दक्षिण-पूर्व में और तमिलनाडु के कन्याकुमारी से 860 किलोमीटर पूर्व-दक्षिण-पूर्व में स्थित है।
मौसम विभाग के अनुसार अगले 12 घंटों के दौरान चक्रवाती तूफान के तेजी से आगे बढ़ने का अनुमान है। पश्चिमोत्तर की ओर बढ़ रहे इस तूफान की रफ्तार 75-85 किमी प्रति घंटे से बढ़कर 95 किमी प्रति घंटे होने का अनुमान है। तेज हवाओं के साथ चक्रवाती तूफान बुधवार शाम/रात को श्रीलंका के त्रिंकोमाली तट को पार कर जाएगा।

इसके बाद तूफान के पश्चिम की ओर बढ़ने की अत्यधिक संभावना है और 3 दिसंबर को यह सुबह मन्नार की खाड़ी और आसपास के कोमोरिन क्षेत्र में तेजी से उठेगा। इसके बाद यह पश्चिम-दक्षिण-पश्चिम की ओर बढ़ेगा और 4 दिसंबर की सुबह कन्याकुमारी और पमबन के बीच तमिलनाडु के तट को पार करेगा।
इससे 2 और 3 दिसंबर को दक्षिण तमिलनाडु के कन्याकुमारी, तिरुनेलवेली, थूथूकुड्डी, तेनकासी, रामनाथपुरम और शिवगांगा के कुछ स्थानों पर भारी बारिश और छिटपुट स्थानों पर अत्यधिक भारी बारिश हो सकती है। 3 दिसंबर को दक्षिण केरल के तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, पथानामथिट्टा ओर अलाप्पुझा और 4 दिसंबर को दक्षिण तमिलनाडु में भारी या मूसलधार बारिश होने की आशंका है। 3 और 4 दिसंबर को दक्षिण केरल में भारी बारिश होने का अनुमान जताया गया है।
उत्तरी तमिलनाडु, पुड्डुचेरी, माहे, कराईकल और उत्तरी केरल में आज मंगलवार और बुधवार तथा 4 दिसंबर को भारी वर्षा और 4 दिसंबर को तटीय तमिलनाडु में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। अगले 2 दिनों में आंध्रप्रदेश के दक्षिण तटीय इलाकों में भारी बारिश होने का अनुमान जताया गया है। (वार्ता)



और भी पढ़ें :