59वें दिन जारी रहे कश्मीर में हिंसा और कर्फ्यू

Author सुरेश डुग्गर| पुनः संशोधित सोमवार, 5 सितम्बर 2016 (21:42 IST)
श्रीनगर। आज 59वें दिन भी कश्मीर में कर्फ्यू, कर्फ्यू जैसा पाबंदियों और जबरदस्त हिंसा का चक्र जारी रहा। हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी बुरहान वानी के जुलाई में एक संघर्ष में मारे जाने के बाद से जारी हिंसक के चलते के कुछ इलाकों में कर्फ्यू और कश्मीर के बाकी इलाकों में प्रतिबंध जारी रहने से आज लगातार 59वें दिन घाटी में जन जीवन बाधित रहा। ताजा हिंसा की घटनाओं में बीसियों लोगों के जख्मी होने की खबर है।
पुलिस ने बताया कि आज श्रीनगर शहर के सात थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगाया गया था। उन्होंने कहा कि शहर के प्रमुख इलाकों के पांच थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू जारी रहा, जबकि शहर के बाहरी इलाके के बटमालू और मैसूमा में भी आज सुबह प्रतिबंध लगाया गया। अधिकारी ने कहा कि ऐसा कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए किया गया।
 
उन्होंने बताया कि घाटी के बाकी इलाकों में लोगों की आवाजाही पर कर्फ्यू जैसे प्रतिबंध लगाए गए हैं। अधिकारी ने कहा कि कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए संवेदनशील इलाकों में भारी संख्या में पुलिस बलों को तैनात किया गया है। आज घाटी में प्रदर्शनकारियों और सुरक्षाबलों के बीच झड़पों में अभी तक 200 से अधिक लोग घायल हो चुके हैं।
 
कश्मीर में अलगाववादी समूहों द्वारा घोषित बंद के कारण आज लगातार 59वें दिन भी सामान्य जन जीवन बाधित रहा। दुकानों, व्यापारिक प्रतिष्ठानों और पेट्रोल पंपों पर कामकाज बंद रहा। स्कूल, कॉलेज और अन्य शिक्षण संस्थान भी बंद रहे। अधिकारी ने बताया कि सरकारी कार्यालयों और बैंकों में कर्मचारियों की उपस्थिति में पिछले कुछ दिनों की तुलना में सुधार देखने को मिला।
 
सार्वजनिक वाहन अभी भी सड़कों से नदारद रहे। अलगाववादियों ने आठ सितंबर तक बंद जारी रखने का फैसला किया है। दक्षिण कश्मीर में एक मुठभेड़ में वानी की मौत के बाद से घाटी में प्रदर्शनकारियों और अलगाववादियों के बीच जारी झड़पों में अब तक दो पुलिस कर्मियों समेत कम से कम 75 लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं हजारों घायल हुए हैं।



और भी पढ़ें :