मंगलवार, 3 अक्टूबर 2023
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. प्रादेशिक
  4. bjp workers stage chakka jam protest against delhi govts new excise policy
Written By
Last Updated : सोमवार, 3 जनवरी 2022 (15:13 IST)

Delhi में आबकारी नीति के खिलाफ प्रदर्शन, डिप्टी CM मनीष सिसोदिया ने कहा- बीजेपी बेवजह बना रही है मुद्दा, कालेधन पर लगेगी लगाम

नई दिल्ली। दिल्ली की केजरीवाल सरकार की नई आबकारी नीति के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी ने राजधानी में 'चक्काजाम' किया है। इस प्रदर्शन की वजह से एनएच-24 सहित दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में भारी जाम लग गया है। लोगों को आने-जाने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।  नई आबकारी नीति का बचाव करते हुए दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि नई आबकारी नीति के जरिए काले धन पर रोक लगाया गया है। भाजपा इसे बेवजह का मुद्दा बना रही है।  
नई आबकारी नीति के खिलाफ भाजपा की ओर से किए गए 'चक्काजाम' का असर राजधानी के कई इलाकों में देखने को मिला। प्रदेश भाजपा के बड़े नेता हजारों समर्थकों के साथ सड़कों पर बैठ गए और नई शराब नीति के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन किया।

इस प्रदर्शन की वजह से एनएच-24, अक्षरधाम, सफदरजंग सहित कई इलाकों में जाम लग गया। भाजपा के इस प्रदर्शन पर आम आदमी पार्टी का कहना है कि नई आबकारी नीति से भाजपा बौखला गई है कि क्योंकि इससे कर चोरी रुकेगी और जो पैसा भाजपा नेताओं और शराब माफियाओं के पास जाता था वह अब अब सरकार को मिल रहा है, जो जनता के विकास कार्यों के लिए काम आएगा।

जाम से लोग हुए परेशान :  भाजपा के ‘चक्का जाम‘ के कारण रिंग रोड, आईटीओ और कई अन्य प्रमुख मार्गों पर लंबा जाम लग गया, जिसके परिणामस्वरूप लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। भाजपा के विरोध प्रदर्शन के कारण प्रभावित होने वाली प्रमुख सड़कों में आईटीओ क्रॉसिंग, लक्ष्मी नगर से आईटीओ तक विकास मार्ग, अक्षरधाम मंदिर के पास सड़क, राष्ट्रीय राजमार्ग-24, नोएडा-दिल्ली लिंक रोड, बहादुर शाह जफर मार्ग, मदर डेयरी रोड और सिग्नेचर ब्रिज रोड शामिल हैं।

दिल्ली की इन प्रमुख सड़कों पर भारी जाम लग गया। राष्ट्रीय राजमार्ग-24 पर फंसे एक यात्री ने कहा कि एनएच -24 पर भारी ट्रैफिक जाम है। अधिकांश सड़कें प्रदर्शनकारियों द्वारा अवरुद्ध हैं और इससे हम जैसे लोगों को असुविधा हो रही है, जिन्हें समय पर कार्यालय पहुंचना होता है। सड़कों पर लगे जाम से बचने के लिए लोगों ने दिल्ली मेट्रो का रुख किया, जिसके कारण सुबह कई मेट्रो स्टेशनों पर भारी भीड़ देखी गई।