• Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. प्रादेशिक
  4. army officer killed bar dancers girlfriend in dehradun uttarakhand
Written By हिमा अग्रवाल
Last Modified: सोमवार, 11 सितम्बर 2023 (20:47 IST)

Uttarakhand : हथौड़े से वार कर प्रेमिका को मौत के घाट उतारा, मांग रही थी पत्नी का दर्जा, आरोपित लेफ्टिनेंट कर्नल गिरफ्तार

Uttarakhand : हथौड़े से वार कर प्रेमिका को मौत के घाट उतारा, मांग रही थी पत्नी का दर्जा, आरोपित लेफ्टिनेंट कर्नल गिरफ्तार - army officer killed bar dancers girlfriend in dehradun uttarakhand
देहरादून में एक आर्मी अफसर ने प्रेमिका की हत्या इसलिए कर दी, क्योंकि वह पत्नी का दर्जा मांग रही थी। पत्नी होने की मांग सामने रखने पर लेफ्टिनेंट कर्नल अपनी प्रेमिका से नाराज हो गया और उसको मौत के घाट उतार दिया। पुलिस को मृतका का शव लावारिस थानो रोड की तरफ छोड़कर फरार हो गया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज कर अपनी तफ्तीश शुरू कर दी। 
 
24 घंटे में पुलिस ने सुलझाई मौत की गुत्थी : देहरादून की रायपुर पुलिस ने मात्र 24 घंटे के अंदर रायपुर के सोडा सरोली में हुई महिला की हत्या की गुत्थी सुलझाते हुए मीडिया को बताया कि मृतका नेपाल की रहने वाली थी और उसका प्रेम-प्रसंग लेफ्टिनेंट कर्नल के साथ चल रहा था। आर्मी अधिकारी अब पुलिस की गिरफ्त में है और उसकी निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त कार, हथौड़ा और अन्य दस्तावेज पुलिस ने बरामद कर लिए हैं।
 
एसएसपी ने बताई पूरी कहानी : देहरादून के एसएसपी दिलीप सिंह कुंवर ने मीडिया के सामने लेफ्टिनेंट कर्नल को पेश करते हुए हत्याकांड का खुलासा किया। पुलिस के मुताबिक हत्या आरोपी रमेंदु उपाध्याय और श्रेया का पिछले 3 वर्ष से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। 
रमेंदु की श्रेया से मुलाकात 2020 में सिलीगुड़ी पोस्टिंग के दौरान हुई। रमेंदु मूलरूप से गाजीपुर और श्रेया नेपाल की रहने वाली थी। मुलाकात के समय वह सिलीगुड़ी के एक बार में डांसर के रूप में नौकरी करती थी। 
 
सिलीगुड़ी के बार में लेफ्टिनेंट कर्नल और श्रेया की मुलाकात प्रगाढ़ हो गई। दोनों साथ घूमने और रहने लगे। इसी दौरान रमेंदु का पोस्टिंग देहरादून हो गई। हालांकि लेफ्टिनेंट कर्नल पहले से ही शादीशुदा था उसने अपनी पत्नी से प्रेम-प्रसंग छुपा रखा था। 
 
देहरादून आने के बाद भी इस आर्मी अफसर का श्रेया से मोह भंग नही हुआ, उसने प्रेमिका को सिलीगुड़ी से देहरादून बुला लिया।
 
 लेफ्टिनेंट कर्नल की पत्नी को अपने पति की बेवफाई का पता चला तो वह गुस्सा हुई और उसने श्रेया को वहां से सिलीगुड़ी भेज दिया। 
 
कुछ दिन बाद रमेंदु ने उसे फिर बुलाया और एक मकान किराए पर ले दिया। श्रेया ने रमेंदु से कहा कि वह अब उसके साथ पत्नी की तरह रहना चाहती है, वह समाज में उसे पत्नी का दर्जा दें। इस बात पर लेफ्टिनेंट कर्नल और श्रेया में कहासुनी होने लगी, नौबत गाली-गलौज तक पहुंच गई। 
 
श्रेया के दबाव से रमेंदु परेशान रहने लगा, उसने अपनी प्रेमिका को रास्ते से हटाने का प्लान तैयार किया। 9 सितंबर को वह उसे घूमाने के लिए राजपुर रोड के क्लब में ले गया, वहां दोनों ने बियर पी। 
 
दोनों लॉन्ग ड्राइव के लिए देहरादून में घूमते रहें। दिन ढलने लगा, सूनी सड़क देखकर रमेंदु ने श्रेया पर हथौड़े से वार करके मौत के घाट उतार दिया और.उसके चेहरे पर तेजाब फेंक दिया, ताकी उसकी पहचान ना हो पायें। रमेंदु शव को देहरादून के रायपुर रोड पर छोड़कर फरार हो गया। 
 
देहरादून पुलिस के लिए यह एक ब्लाइंड मर्डर था, क्योंकि वह की नेपाल की रहने वाली लग रही थी।
 
सीसीटीवी से मिला सुराग : पुलिस ने इस हत्याकांड को चैलेंज के रूप में लेते हुए कई रायपुर रोड के आसपास लगे CCTV चेक किए। घंटों की मशक्कत के बाद घटना में प्रयुक्त गाड़ी ट्रेस हुई। इसके बाद लेफ्टिनेंट कर्नल के गिरबां तक पुलिस पहुंच गई। रमेंदु को उसके पंडितवाड़ी प्रेमनगर स्थित घर से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस पूछताछ में लेफ्टिनेंट कर्नल ने अपना जुर्म कबूलते हुए बताया कि वह श्रेया उससे शादी का दबाव बना रही थी, जिस कारण वह परेशान हो गया और उसे रास्ते से हटा दिया।
ये भी पढ़ें
Indore News: अशनीर ग्रोवर के खिलाफ दर्ज हुई एनसीआर, इंदौर की स्वच्छता को लेकर दिया था बयान