भ्रष्टाचार का विरोध करती है कांग्रेस-राहुल

गिद्दरबाहा| भाषा| पुनः संशोधित शुक्रवार, 27 जनवरी 2012 (20:24 IST)
पार्टी जनों को स्पष्ट संकेत देते हुए कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी ने शुक्रवार को कहा कि भ्रष्टाचार में संलिप्त लोगों का राजनीतिक जीवन समाप्त हो जाएगा।

राहुल ने राज्य में मालवा क्षेत्र के इस प्रमुख इलाके में एक चुनाव रैली को संबोधित करते हुए कहा कि टिकट आवंटित करने से पहले मैं पार्टी उम्मीदवारों से मिला और उनसे स्पष्ट तौर पर कहा कि यदि किसी भी स्तर पर मुझे उनके भ्रष्ट तरीकों में संलिप्त होने के बारे में पता चला तो किसी भी पार्टी जन का करियर तुरंत समाप्त कर दिया जाएगा।

राज्य में शिरोमणि अकाली दल-भाजपा गठबंधन को आड़े हाथों लेते हुए उन्होंने कहा कि वे (पंजाब में सत्तारूढ़ गठबंधन) केवल भाषण देते हैं और जमीनी स्तर पर कुछ नहीं करते तथा निजी लाभों के लिए चुनाव लड़ते हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस देश से गरीबी उन्मूलन के लिए प्रतिबद्ध है।
राहुल ने राज्य में सत्तारूढ़ गठबंधन द्वारा पंजाब को कैलिफोर्निया में तब्दील करने की बात करने के लिए उन्हें आड़े हाथ लिया। उन्होंने भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी से कहा कि वह कनार्टक, झारखंड, छत्तीसगढ़ और पंजाब जैसे भाजपा शासित राज्यों में भ्रष्टाचार की अनदेखी क्यों कर रहे हैं।

मजबूत लोकपाल के लिए पार्टी के रूख को दोहराते हुए उन्होंने कहा कि हम लोकपाल को एक संवैधानिक संस्था बनाना चाहते हैं ताकि यह सभी तरह के दबावों से मुक्त रहे।
राहुल ने कहा कि भाजपा नीत राजग ने मजबूत लोकपाल की राह में अड़चनें पैदा की..प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस संसद में लोकपाल विधेयक ले कर आई थी। लेकिन भाजपा और उसके सहयोगियों ने मजबूत लोकपाल लाने के लिए लाल बटन दबाकर ब्रेक लगा दिया। (भाषा)



और भी पढ़ें :