नवरात्रि 2022 : कलश स्थापना के लिए बहुत कम समय है शुभ, नोट कर लें मुहूर्त

पुनः संशोधित गुरुवार, 22 सितम्बर 2022 (12:03 IST)
हमें फॉलो करें
26 सितंबर 2020 से नवरात्रि का पर्व प्रारंभ हो रहा है। इन नौ दिनों में माता दुर्गा की पूजा होगी और जगह जगह लगे पांडालों में गरबा उत्सव होगा। क्या है में घट स्थापना और कलश स्थापना के शुभ मुहूर्त? किस शुभ योग संयोग मुहूर्त में करें कलश स्थापना? इस बार नवरात्र का पर्व बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। नोट कर लें सभी का समय।

तिथि : आश्विन नवरात्रि की प्रतिपदा तिथि 26 सितंबर 2022 सोमवार को सुबह 03 बजकर 23 मिनट से शुरू हो जाएगी जो 27 सितंबर 2022 को सुबह 03 बजकर 08 मिनट पर खत्म होगी।

नवरात्रि पर घट एवं कलश स्थापना और पूजा के शुभ मुहूर्त | Navratri Kalash and ghatasthapana 2022 muhurat:

- कलश स्थापना का मुहूर्त सुबह 6 बजकर 11 मिनट से लेकर 7 बजकर 51 मिनट तक रहेगा। इस मुहूर्त में न कर पाएं तो निम्नलिखित मुहूर्त में करें।
- अभिजित मुहूर्त : दोपहर 12:06 से 12:54 तक रहेगा।

- विजय मुहूर्त : दोपहर : 02:30 से 03:18 तक।

- गोधूलि मुहूर्त : शाम 06:19 से 06:43 तक।

- सायाह्न सन्ध्या : शाम 06:31 से 07:43 तक।
नवरात्रि घटस्थापना और कलश स्थापना के शुभ योग संयोग | Kalash and ghatasthapana Shubha Yogas of Shardiya Navratri:
- शुक्ल योग सुबह 08:05 तक, उसके बाद ब्रह्म योग।

- हस्त नक्षत्र : 26 सितंबर प्रात: 05:55 से प्रारंभ होकर दूसरे दिन प्रात: 06:16 बजे तक। उसके बाद चित्र।



और भी पढ़ें :