1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. Third day of Rahul Gandhi's India Jodo Yatra
Written By
Last Updated: मंगलवार, 13 सितम्बर 2022 (17:17 IST)

Bharat Jodo Yatra: राहुल बोले, बाधाएं हमें रोक नहीं पाएंगी, हम भारत को जोड़ेंगे

तिरुवनंतपुरम। केरल में कांग्रेस की 'भारत जोड़ो यात्रा' के तीसरे दिन मंगलवार को भी यात्रा के लिए उत्साहजनक भीड़ उमड़ पड़ी और रुक-रुककर हो रही बारिश के बीच कांग्रेस नेता तथा सैकड़ों समर्थक बिना छतरी के सड़कों पर पदयात्रा करते दिखे। इस यात्रा के तहत केरल में 19 दिनों की अवधि में 7 जिलों से होते हुए 450 किलोमीटर की दूरी तय कर यह यात्रा 1 अक्टूबर को कर्नाटक पहुंचेगी।
 
पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कन्याकुमारी से कश्मीर तक 3,500 किलोमीटर दूरी की पदयात्रा शुरू की है। उन्होंने कहा कि यात्रा में शामिल लोगों के पैरों में छाले पड़ गए हैं लेकिन अभियान जारी रहेगा। कांग्रेस नेता राहुल गांधी और पदयात्रियों का अभिवादन करने के लिए सड़कों के किनारे बड़ी संख्या में लोगों का हुजूम खड़ा दिखा। बारिश के दौरान गांधी सहित कांग्रेस के नेता बिना छतरी के सड़कों पर पदयात्रा कर रहे थे।
 
फेसबुक पर एक पोस्ट में गांधी ने हिन्दी की एक कविता की पंक्तियों का जिक्र करते हुए लिखा कि 'भले ही पैरों में छाले हैं, लेकिन हम देश जोड़ने निकले हैं, हम नहीं रुकने वाले हैं।' उन्होंने इससे संबंधित एक वीडियो क्लिप भी साझा किया।
 
केरल में कांग्रेस की 'भारत जोड़ो' यात्रा का तीसरा दिन है। यात्रा यहां कझाकूटम के निकट कन्यापुरम से सुबह करीब 7.15 बजे शुरू हुई। इस दौरान केरल चरण के पिछले 2 दिनों की तरह ही लोगों की उत्साहजनक भीड़ देखी गई। 'भारत जोड़ो' यात्रा के तहत 150 दिनों में पदयात्रा करते हुए कन्याकुमारी से कश्मीर तक 3,570 किलोमीटर की दूरी तय की जाएगी।
 
जब यात्रा यहां अत्तिंगल में दिन के अपने पहले पड़ाव बिंदु पर पहुंची तो अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के महासचिव संचार प्रभारी जयराम रमेश ने ट्वीट किया कि पदयात्रा अभी अत्तिंगल के पास ममोम में सुबह के पड़ाव बिंदु पर पहुंची है, जहां विभिन्न समूहों के साथ कई दौर बातचीत होगी। यात्रा शाम 5 बजे फिर से शुरू होगी और शाम को यहां कल्लम्बलम जंक्शन पर समाप्त होगी। सोमवार शाम को यात्रा समाप्त होने तक 100 किलोमीटर की दूरी तय की जा चुकी थी।
 
कझाकूटम में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने लोगों की भीड़ को संबोधित करते हुए कहा था कि चुनाव नफरत, हिंसा और गुस्से से जीते जा सकते हैं, लेकिन इससे देश के सामने आने वाली सामाजिक-आर्थिक समस्याओं का समाधान नहीं हो सकता।
 
सोमवार को पदयात्रा के आगे बढ़ने के साथ ही लोगों की भीड़ भी बढ़ती जा रही थी। इससे उत्साहित गांधी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर हमला करते हुए आरोप लगाया कि भाजपा ने साबित कर दिया है कि नफरत का इस्तेमाल राजनीतिक रूप से और चुनाव जीतने के लिए किया जा सकता है, लेकिन इससे रोजगार पैदा नहीं हो सकते। राहुल गांधी केरल की वायनाड लोकसभा सीट से सांसद भी हैं।
 
उन्होंने आरोप लगाया कि भारत में संवाद और लोगों की आवाज को खामोश कर दिया गया है, क्योंकि मीडिया भी वही कह रहा है, जो देश की सरकार उससे कहलवाना चाहती है और यह सत्तारूढ़ सरकार द्वारा मीडिया संगठनों के मालिकों पर बनाए गए दबाव के कारण है। गांधी ने ट्वीट किया कि भारत का सपना टूटा है, बिखरा नहीं है। उस सपने को साकार करने के लिए, हम भारत को एक साथ ला रहे हैं। सौ किलोमीटर की यात्रा हो गई है। हमने अभी शुरुआत की है।
 
रमेश ने भी ट्वीट किया कि 'भारत जोड़ो यात्रा' ने ठीक 100 किलोमीटर की यात्रा पूरी कर ली है और इसने भाजपा को निराश, बेचैन और परेशान कर दिया है जबकि कांग्रेस पार्टी पहले ही 100 गुना अधिक जोश से भर चुकी है। हर कदम के साथ हम अपने संकल्प को और मजबूत करते जा रहे हैं।
 
150 दिवसीय पैदल यात्रा 7 सितंबर को तमिलनाडु के कन्याकुमारी से शुरू हुई थी और यह 12 राज्यों और 2 केंद्र शासित प्रदेशों से होकर गुजरेगी। यह यात्रा केरल में 10 सितंबर की शाम पहुंची थी। इस यात्रा के तहत राज्य में 19 दिनों की अवधि में 7 जिलों से होते हुए 450 किलोमीटर की दूरी तय की जाएगी। इसके बाद यह यात्रा 1 अक्टूबर को कर्नाटक पहुंचेगी।(भाषा)
ये भी पढ़ें
PM Narendra Modi Birthday:70 साल के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 7 बड़े फैसले जिन्होंने लिखा नया इतिहास