तमिलनाडु के सांसद और परिवार की 89 करोड़ रुपए की संपत्ति होगी जब्त, ED ने दिया आदेश

पुनः संशोधित शनिवार, 12 सितम्बर 2020 (21:10 IST)
नई दिल्ली। (ईडी) ने विदेशी मुद्रा प्रबंधन कानून (फेमा) के उल्लंघन के लिए तमिलनाडु से लोकसभा सदस्य और उनके परिवार के सदस्यों की 89.19 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त करने का आदेश दिया है।
ईडी ने एक बयान में कहा कि फेमा का उल्लंघन करते हुए सिंगापुर स्थित एक कंपनी में अवैध तौर पर हासिल, अर्जित, स्थानांतरित शेयरों के बराबर की संपत्ति जब्त की गई है।एजेंसी को सूचना मिली थी कि जगतरक्षकन ने फेमा के प्रावधानों का उल्लंघन करते हुए विदेशी शेयर हासिल किए हैं। इसके बाद एजेंसी ने विस्तृत जांच की।

ईडी ने दावा किया है कि फेमा के प्रावधानों के तहत जांच की अवधि में पाया गया कि जगतरक्षकन और उनके पुत्र संदीप आनंद ने भारतीय रिजर्व बैंक की मंजूरी के बिना सिल्वर पार्क इंटरनेशनल पी. लिमिटेड सिंगापुर में 15 जून 2017 को क्रमश: 70,00,000 शेयर और 20,00,000 शेयर लिए।
ALSO READ:
खुशखबरी! जानवरों पर Corona Vaccine का सफल परीक्षण
ईडी ने कहा कि जगतरक्षकन ने अवैध तरीके से हासिल शेयरों को फेमा के नियमों के विरुद्ध अपने परिवार के सदस्यों को हस्तांतरित कर दिया।ईडी ने कहा है कि फेमा की धारा 37-ए के प्रावधानों के तहत जगतरक्षकन और उनके पारिवार के सदस्यों की कृषि भूमि, भूखंड, मकान आदि के रूप में अचल संपत्ति और बैंक खाते तथा शेयरों को मिलाकर कुल 89.19 करोड़ की संपत्ति जब्त की गई है।
मामले में आगे जांच की जा रही है।जगतरक्षकन द्रमुक हैं। वे लोकसभा में तमिलनाडु की अराकोनम सीट का प्रतिनिधित्व करते हैं।(भाषा)



और भी पढ़ें :