1. खबर-संसार
  2. समाचार
  3. राष्ट्रीय
  4. Social media Kashmiri youth
Written By
पुनः संशोधित शनिवार, 10 जून 2017 (16:41 IST)

सोशल मीडिया के जरिए भड़काया जा रहा है कश्मीर का युवा

देहरादून। थलसेना अध्यक्ष बिपिन रावत ने शनिवार को कहा कि कश्मीर में युवाओं को सोशल मीडिया के जरिए भड़काया जा रहा है। जनरल रावत यहां उत्तराखंड के देहरादून स्थित भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए) में 140वें नियमित पाठ्यक्रम के कैडेटों की सलामी ले रहे थे। इस मौके पर उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर दुष्प्रचार के जरिए कश्मीर के युवाओं को भड़काया जा रहा है। सेना वहां लोगों की रक्षा के लिए है, न कि उनसे उलझने के लिए।
 
उन्होंने कहा कि सेना की ओर से युवाओं को सेना सही राह पर लाने के प्रयास किए जा रहे हैं, हालांकि यहां के हालात पहले से बेहतर हुए हैं।  उन्होंने नव सैन्य अधिकारियों से परंपरागत और गैर परम्परागत चुनौतियों के लिए तैयार रहने का आह्वान किया। 
 
उन्होंने कहा कि सेना के ऑपरेशन के दौरान कई बार महिलाएं सामने आ जाती हैं। विभिन्न घरेलू मोर्चों पर जूझने के लिए महिला जवानों की जरूरत पड़ती है इसलिए सेना में महिला जवानों की भर्ती की जाएंगी। प्रयोग सफल होने पर उन्हें सेना की मुख्यधारा में शामिल किया जाएगा। पाठ्यक्रम पूरा करने के बाद देश के 423 और दस मित्र देशों के 67 जेंटलमेन कैडेट सेना में शामिल हो गए।
ये भी पढ़ें
राजनीतिक निर्वासन के लिए तैयार रहें शिवराज : कांग्रेस