राहुल के बयान पर शिवसेना की चेतावनी, सावरकर का अपमान बर्दाश्त नहीं

Sanjay Raut
Last Updated: रविवार, 15 दिसंबर 2019 (00:13 IST)
नई दिल्ली। शिवसेना के संजय राऊत ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के स्वतंत्रता सेनानी संबंधी बयान पर चेतावनी देते हुए शनिवार को कहा कि महात्मा गांधी और पं. जवाहरलाल नेहरू की तरह विनायक दामोदर सावरकर भी राष्ट्र के गौरव हैं और उनके सम्मान के साथ कोई समझौता नहीं होगा।
राऊत ने मराठी भाषा में एक ट्वीट में कहा कि वीर सावरकर सिर्फ के ही नहीं, देश के देवता हैं, सावरकर नाम में राष्ट्र अभिमान और स्वाभिमान है। गांधी-नेहरू की तरह सावरकर ने भी देश की आजादी के लिए जीवन बलिदान किया। इस देवता का सम्मान करना चाहिए। उसमें कोई भी समझौता नहीं होगा। जय हिंद।

उन्होंने कांग्रेस को सलाह देते हुए कहा कि हम पंडित नेहरू, महात्मा गांधी इन्हें मानते हैं, आप भी वीर सावरकर का अपमान मत करो। जो समझदार होता है उसे ज्यादा बताने की जरूरत नहीं होती। जय हिंद। महाराष्ट्र में कांग्रेस के समर्थन से शिवसेना की सरकार है।

गांधी ने दिल्ली में रामलीला मैदान में आयोजित भारत बचाओ रैली में कहा कि उनका नाम राहुल सावरकर नहीं है। भारतीय जनता पार्टी उनके 'रेप इन इंडिया' बयान पर माफी मांगने को कह रही है।

भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा ने भी गांधी के इस बयान पर तीखी कटाक्ष किया है और ट्वीट करके कहा है- 'राहुल गांधी अगर हज़ार जनम भी ले ले तो भी राहुल 'सावरकर' नहीं बन सकते। हां, अगर नाम बदलना ही है तो आज से हम उन्हें राहुल 'थोड़ा-शर्मकर' के नाम से बुलाएंगे।

जो व्यक्ति 'मेक इन इंडिया' को 'रेप इन इंडिया' कहता हो उसके लिए यही नाम उचित है। हाल ही में महाराष्ट्र में कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार बनाने वाली शिवसेना के राहुल गांधी पर इस सीधे हमले से कांग्रेस के अंदरखाने खलबली मच गई है।



और भी पढ़ें :