आलू, प्याज, टमाटर के दामों पर होगा नियंत्रण, पोर्टल हुआ लांच, राज्यों को करेगा अलर्ट

Potato_Onion
पुनः संशोधित बुधवार, 26 फ़रवरी 2020 (17:38 IST)
नई दिल्ली। आलू, और के दाम मंडियों तेजी से बढ़ने या घटने की स्थिति में राज्यों का आगाह करने के लिए आज एक लांच किया गया, ताकि कीमतों के काबू से बाहर जाने से पहले ही उसे नियंत्रित किया जा सके। खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री ने बुधवार को ‘ऑपरेशन ग्रीन्स स्कीम’ के तहत ‘मार्केट इंटेलिजेंस एंड अर्लि वार्निंग सिस्टम’ (एमआईईडब्ल्यूएस) पोर्टल लांच किया।
इसमें आलू, प्याज और टमाटर की खेती करने वाले राज्यों के साथ ही इनकी ज्यादा खपत वाले राज्यों की मंडियों में भी कीमतों पर नजर रखी जाएगी। साथ ही इनकी बुआई और पैदावार संबंधी आंकड़े भी उपलब्ध होंगे। इस पोर्टल के लिए ‘एगमार्कनेट’ द्वारा 128 मंडियों की कीमत उपलब्ध कराई जाएगी।

आंकड़े हर सप्ताह अपडेट किए जाएंगे। इस पर तीनों उपजों के साप्ताहिक, मासिक, तिमाही, छमाही, वार्षिक और 3 साल के ग्राफ और आंकड़े उपलब्ध होंगे। पोर्टल मूल्य के साथ ही बुआई और पैदावार के आंकड़ों को मिलाकर अगले 3 महीने में कीमतों में संभावित बदलाव के बारे में भी जानकारी देगा तथा कीमतों के तेजी से घटने या बढ़ने की स्थिति में अलर्ट जारी कर राज्यों को आगाह करेगा।

श्रीमती बादल ने बताया कि इससे राज्यों को अपने यहां कीमतें नियंत्रित करने में मदद मिलेगी। वे समय रहते आपूर्ति सुनिश्चित कर सकेंगे। उन्होंने बताया कि इस पोर्टल का उद्देश्य किसानों के साथ ही खाद्य प्रसंस्करण उद्योग के हितों की रक्षा भी है। चिप्स, आलू पाउडर, सॉस इत्यादि बनाने वाले उद्योगों को भी यह पता चल सकेगा कि किन उत्पादों की कीमत किस मंडी में कितनी है। केंद्रीय मंत्री ने बताया कि ये आंकड़े आम लोगों के लिए भी उपलब्ध होंगे।

इस मौके पर खाद्य प्रसंस्करण उद्योग सचिव पुष्पा सुब्रमण्यम् और राष्ट्रीय कृषि सहकारी विपणन महासंघ के अतिरिक्त प्रबंध निदेशक सुनिल कुमार सिंह भी मौजूद थे।


और भी पढ़ें :