Agneepath Scheme : बिहार में सेना में भर्ती 'अग्निपथ योजना' का विरोध, कई स्‍थानों पर बवाल...

Last Updated: बुधवार, 15 जून 2022 (20:11 IST)
हमें फॉलो करें
की युवाओं के सेना में भर्ती के लिए योजना (Scheme) का में बुधवार को विरोध शुरू हो गया। कई स्थानों पर छात्रों ने सड़क पर उतरकर बवाल मचाया। छात्रों ने बक्सर में रेलवे ट्रैक को जाम कर दिया और ट्रेन पर पथराव किया।

रेल पटरी पर बैठकर ट्रैक को करीब 45 मिनट तक जाम किए रखा।
खबरों के अनुसार, अग्‍न‍िपथ योजना की घोषणा किए जाने के अगले ही दिन बिहार के अलग-अलग शहरों में हंगामा शुरू हो गया है। बक्सर में 100 से अधिक की संख्या में रहे छात्रों ने रेल पटरी पर बैठकर ट्रैक को करीब 45 मिनट तक जाम किए रखा। इस बीच ट्रैक जाम रहने के कारण जनशताब्दी एक्सप्रेस करीब 25 मिनट तक खड़ी रही। मुजफ्फरपुर में छात्र विरोध में सड़क पर उतरे और हंगामा किया।

युवाओं की मांग है कि केंद्र की लाई गई अग्निपथ योजना को वापस लिया जाना चाहिए। युवाओं का कहना है कि सेना में यदि इस तरह संविदा आधार पर भर्ती की जाएगी तो देश रक्षा के साथ भी खिलवाड़ होगा। हंगामा कर रहे युवाओं का कहना है कि सेना में भर्ती के लिए दो साल पहले ही शारीरिक दक्षता परीक्षा पास करने के बाद भी उन्‍हें नौकरी नहीं मिली है।

गौरतलब है कि मंगलवार को भारतीय सेना के तीनों प्रमुखों ने सेना में छोटी अवधि की नियुक्तियों को लेकर 'अग्निपथ' नीति की घोषणा की थी।उल्‍लेखनीय है कि अग्निपथ योजना के रास्ते युवा देश के प्रभारी बन सकेंगे। 1 साल में इसके तहत 40 हजार भर्तियां होंगी। इन सैनिकों को अग्निवीर नाम दिया गया है। चयनित युवा 4 साल तक सेना में सेवा दे सकेंगे।
फोटो सौजन्‍य : सोशल मीडिया



और भी पढ़ें :