महंत नरेंद्र गिरि डेथ केस : CBI ने 7.30 घंटे तक आनंद गिरि से की पूछताछ, आश्रम से महत्वपूर्ण दस्तावेज बरामद

हिमा अग्रवाल| पुनः संशोधित गुरुवार, 30 सितम्बर 2021 (10:50 IST)
हमें फॉलो करें
हरिद्वार। धर्म नगरी हरिद्वार में अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरि की मौत मामले में जांच कर रही ने लगभग साढ़े सात घंटे तक आनंद गिरि से उनके आश्रम में पूछताछ की। आनंद ‍गिरि की निशानदेही पर आश्रम से प्रिंटर, लैपटॉप, आईफोन सीसीटीवी की डीबीआर और दस्तावेज बरामद किए हैं। बरामद साक्ष्य को CBI सील करके अपने साथ ले गई है और अब उनकी फारेंसिक जांच होगी।

हरिद्वार में महंत नरेंद्र गिरि के शिष्य आनंद गिरि का श्यामपुर कांगड़ी गाजीवाली में आश्रम है। आनंद गिरि को नरेंद्र गिरि की मौत मामले में उत्तर प्रदेश पुलिस ने 20 सितंबर 2021 गिरफ्तार किया था। मामला हाईप्रोफाइल होने के कारण इसकी जांच CBI को सौंप दी गई।

बीती देर शाम टीम आनंद गिरि को उनके आश्रम लेकर पहुंची, जहां लगभभ उनसे 7:30 घंटे तक CBI के 12 अधिकारियों ने पूछताछ की है। CBI ने आरोपी आनंद गिरी के सभी शिष्यों को बुलाकर उनसे भी गहनता के साथ पूछताछ की गई है। वही भोर होने से पहले करीब 3 बजे सीबीआई की टीम आरोपी आनंद गिरी को आश्रम से अपने साथ वापस ले गई।
इस दौरान मीडिया ने आनंद गिरि से बात करने की कोशिश की, लेकिन वह हाथ जोड़ कर मुस्कुराते रहे। CBI की टीम ने उन्हें गाड़ी में बैठाया तो, आनंद गिरि हल्की मुस्कुराहट के साथ बेचैनी और थकान को छुपाते नजर आयें।

हालांकि जब आनंद गिरि को उनके आश्रम लाया गया था, तो वह कह रहे थे कि जांच एजेंसियों को अपना काम करने दो, सच सबके सामने आ जायेगा। लेकिन 7.30 घंटे चली सीबीआई की पूछताछ के बाद वह कुछ बेचैन नजर आयें और मीडिया से कोई बातचीत नही की।



और भी पढ़ें :