महाराष्ट्र में बाढ़ से हाहाकार, NDRF के साथ नौसेना ने भी संभाला मैदान (देखिए फोटो)

रूना आशीष| Last Updated: शुक्रवार, 23 जुलाई 2021 (12:17 IST)
मुंबई। महाराष्ट्र में भारी बारिश और नदियों में उफान आने से कोंकण रेलवे मार्ग पर ट्रेन सेवांए प्रभावित हुईं और करीब 6 हजार यात्री फंस गए। भारी बारिश की वजह से मुंबई सहित राज्य के कई अन्य हिस्सों में रेल और सड़क यातायात प्रभावित हुआ है। इसकी वजह से अधिकारियों को बचाव कार्य में प्रशासन की मदद के लिए एनडीआरएफ के साथ ही नौसेना की मदद ली जा रही है।

09:47AM, 23rd Jul
नौसेना के बाढ़ बचाव दल पूरी तरह से आत्मनिर्भर हैं। वे जेमिनी रबर बोट, लाउड हैलर, प्राथमिक चिकित्सा किट, लाइफ जैकेट और लाइफ बॉय से लैस हैं। इन बचाव दलों में विशेषज्ञ नौसेना गोताखोर और गोताखोरी उपकरण भी शामिल हैं।
09:44AM, 23rd Jul
महाराष्ट्र सरकार से प्राप्त अनुरोध के आधार पर, पश्चिमी नौसेना कमान, मुंबई ने राज्य प्रशासन को सहायता प्रदान करने के लिए बाढ़ बचाव दल और हेलीकॉप्टर जुटाए हैं।
09:43AM, 23rd Jul
भारी बारिश की वजह से कोंकण क्षेत्र की प्रमुख नदियां रत्नागिरि और रायगढ़ जिले में नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं और सरकारी अमला प्रभावित लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने में जुटा है।
 
रत्नागिरी का चिपलून पानी में डूबा हुआ है। भारी बारिश के कारण रत्नागिरि में चिपलून और कामठे स्टेशन के बीच वशिष्ठी नदी पुल का जलस्तर खतरे के निशान को पार कर गया है। उन्होंने कहा कि यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए इस खंड पर ट्रेन सेवाएं अस्थायी तौर पर निलंबित कर दी गई हैं।



और भी पढ़ें :