जानिए क्‍या है लोन मोरेटोरियम 2, कैसे उठा सकते हैं आप इसका फायदा...

पुनः संशोधित शुक्रवार, 7 मई 2021 (19:55 IST)
नई दिल्ली। (Coronavirus) की दूसरी लहर में एक बार फिर की ओर से राहत पैकेज की घोषणा से लेने वाले वे लोग, जो पहले में इसका फायदा नहीं उठा पाए थे, अब वे इस दूसरे ऑफर में फायदा उठा सकेंगे। इस पैकेज में ने कोरोनावायरस महामारी से त्रस्त व्यक्तियों तथा सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों से वसूल नहीं हो पा रहे कर्जों के पुनर्गठन की छूट देने की घोषणा की है।
खबरों के मुताबिक, रिजोल्यूशन फ्रेमवर्क 2.0 के तहत 25 करोड़ रुपए तक का लोन लेने वाले लोग या छोटे कारोबारी लोन रिस्ट्रक्चरिंग की फैसिलिटी का लाभ उठा सकते हैं। हालांकि इसके लिए जरूरी है कि उन्होंने पहले इस स्कीम का लाभ नहीं लिया हो। अगर उन्होंने पहले इस स्कीम का लाभ लिया है, तो आरबीआई ने बैंक और लेंडिंग इंस्टीट्यूशंस को प्लान में संशोधन करने और मोरेटोरियम की अवधि बढ़ाने की अनुमति दे दी है।

लोन लेने वाले वे लोग, जो पहले मोरेटोरियम में इसका फायदा नहीं उठा पाए थे, अब वे इस दूसरे ऑफर में फायदा उठा सकेंगे। पहले वाले अपने मोरेटोरियम पीरियड को बढ़वा सकेंगे।जिन्हें 31 मार्च, 2021 तक स्टैंडर्ड लोन के रूप में क्लासीफाई किया गया था, वे रिजोल्यूशन फ्रेमवर्क 2.0 के तहत इसके लिए योग्य होंगे।

चूंकि पिछले मोरेटोरियम के लिए आवेदन करने का समय दिसंबर 2020 में समाप्त हो गया था, इसलिए इन कर्जदारों के पास उस मोरेटोरियम का लाभ उठाने का कोई विकल्प नहीं बचा था। रिजर्व बैंक द्वारा घोषित नए मोरेटोरियम से उन्हें बड़ी राहत मिलेगी, क्योंकि वे अब दूसरे मोरेटोरियम का लाभ उठा सकते हैं। भारतीय रिजर्व बैंक ने कर्जदारों को 30 सितंबर, 2021 तक का समय दिया है, ताकि वे अपने लोन के रीस्ट्रक्चरिंग के लिए बैंक से संपर्क कर सकें।



और भी पढ़ें :