केजरीवाल का 'मिशन' पंजाब, 300 यूनिट तक बिजली मुफ्त और महिलाओं को 1000 रुपए प्रतिमाह

पुनः संशोधित मंगलवार, 23 नवंबर 2021 (00:24 IST)
मोगा (पंजाब)। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को कहा कि पंजाब में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में अगर आम आदमी पार्टी (आप) सत्ता में आती है, तो राज्य में हर महिला के खाते में एक हजार रुपए प्रति माह भेजे जाएंगे। उन्होंने पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को ‘नकली केजरीवाल’ करार दिया।

केजरीवाल ने पंजाब के मुख्यमंत्री पर उनके एजेंडे को लागू किए बिना नकल करने का भी आरोप लगाया। चन्नी का नाम लिए बिना आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक ने कहा कि वह पिछले कुछ दिनों से देख रहे हैं कि पंजाब में एक ‘नकली केजरीवाल’ घूम रहा है।

चन्नी को बताया नकली केजरीवाल : केजरीवाल ने कहा कि मैं पंजाब में जो भी वादा करता हूं, वह भी दो दिनों के बाद उसी बात की घोषणा करते हैं। वह इसे लागू नहीं करते हैं क्योंकि वह नकली हैं। मोगा से अपने दो दिवसीय पंजाब दौरे की शुरुआत करते हुए केजरीवाल ने कहा कि वह लोगों के लिए शून्य बिजली बिल सुनिश्चित कर सकते हैं।
आप नेता ने कहा कि नकली केजरीवाल से सावधान रहिए। पंजाब के मुख्यमंत्री द्वारा पूर्व में घोषित शुल्क में राहत के संदर्भ में केजरीवाल ने कहा कि लोगों को अभी भी राज्य में बिजली के बिल मिल रहे हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि पंजाब में 15,000 मोहल्ला क्लीनिक स्थापित करने का वादा करने के बाद ‘नकली केजरीवाल’ ने भी यही वादा किया।

आप नेता ने कहा कि वह सोमवार शाम लुधियाना में ऑटो रिक्शा चालकों से मिलने जाने वाले थे। केजरीवाल कहा कि उनकी प्रस्तावित बैठक के बारे में जानने के बाद वह (नकली केजरीवाल) ऑटो चालकों से मिलने उनके कार्यालय चले गए। पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह का जिक्र करते हुए केजरीवाल ने कहा कि चन्नी के पूर्ववर्ती ने रोजगार, स्मार्टफोन देने और कर्ज माफी का वादा किया था। केजरीवाल ने चन्नी पर कटाक्ष करते हुए कहा, ‘कुछ हुआ क्या?’
महिलाओं को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने आम आदमी पार्टी को सरकार बनाने का मौका देने की अपील की और लागू करने की मंशा के बिना बड़े-बड़े वादे करने के लिए प्रतिद्वंद्वियों की आलोचना की।

केजरीवाल ने कहा कि मैं आज एक घोषणा करना चाहता हूं। हम पंजाब में 18 साल से अधिक उम्र की हर महिला के खाते में हर महीने 1,000 रुपये भेजेंगे। इसे ‘दुनिया का सबसे बड़ा महिला सशक्तिकरण’ कार्यक्रम बताते हुए केजरीवाल ने कहा कि दुनिया की किसी भी सरकार ने इसे पहले लागू नहीं किया।
पंजाब के लोगों के लिए अपनी तीसरी ‘गारंटी’ के बारे में अधिक जानकारी देते हुए केजरीवाल ने कहा कि अगर एक परिवार में तीन महिलाएं हैं -‘बेटी’, ‘बहू’ और ‘सास’ तो तीनों को उनके खाते में एक-एक हजार रुपए मिलेंगे। उन्होंने कहा कि जिन बुजुर्ग महिलाओं को पेंशन मिल रही है, उन्हें भी यह राशि दी जाएगी। केजरीवाल ने कहा कि यह पैसा महिलाओं को कॉलेजों में जाने में मदद कर सकता है और उन्हें अपने पिता या पति पर निर्भर नहीं होने देगा। दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर कोई महिला नई साड़ी खरीदना चाहती है और अगर उसे पति से साड़ी नहीं मिलती है तो वह खुद खरीद सकती है।
केजरीवाल ने कहा कि उनके प्रतिद्वंद्वी अब पूछेंगे कि इस कार्यक्रम के लिए पैसा कहां से आएगा। उन्होंने राज्य में कांग्रेस नेतृत्व वाली सरकार पर हमला करते हुए कहा, ‘मैं कभी-कभी टीवी देखता हूं और देखता हूं कि ट्रांसपोर्ट माफिया चन्नी के बाईं ओर और रेत माफिया उनके दाहिने तरफ बैठे हैं। अगर उन्हें खत्म कर दिया गया, तो पर्याप्त पैसा होगा।

300 यूनिट बिजली मुफ्त : केजरीवाल ने कहा कि उनकी सरकार ने दिल्ली में महिलाओं के लिए बस सेवा मुफ्त कर दी है और इसमें 150 करोड़ रुपए का खर्च आया है। केजरीवाल ने कहा कि इस बार परिवारों में महिलाएं तय करेंगी कि किसे वोट देना है। केजरीवाल ने आगामी विधानसभा चुनाव में पार्टी के सत्ता में आने पर पंजाब में हर घर को 300 यूनिट बिजली मुफ्त देने, 24 घंटे बिजली आपूर्ति उपलब्ध कराने और सरकारी अस्पतालों में उपचार एवं दवाएं नि:शुल्क मुहैया कराने का भी वादा किया है।




और भी पढ़ें :