शनिवार, 13 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. Karnataka Hijab Row, Karnataka, nitin gadkari on hijab
Written By
Last Updated : गुरुवार, 10 फ़रवरी 2022 (13:56 IST)

Karnataka Hijab Row: हिजाब विवाद पर गडकरी बोले- ये छोटी घटनाएं समाज के लिए अच्छी नहीं

Karnataka Hijab Row: हिजाब विवाद पर गडकरी बोले- ये छोटी घटनाएं समाज के लिए अच्छी नहीं - Karnataka Hijab Row, Karnataka, nitin gadkari on hijab
नई दिल्ली। कर्नाटक में हिजाब मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। हाल ही इसे लेकर जावेद अख्‍तर ने बयान दिया था, अब इस पर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि हमें सभी धर्मों का सम्मान करना चाहिए और समाज में धार्मिक सद्भावना बनानी चाहिए।

बता दें कि आज कर्नाटक हाईकोर्ट हिजाब के मुद्दे को लेकर सुनवाई कर सकता है। वहीं, सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले पर दायर याचिका कहा है कि पहले सु्प्रीम कोर्ट का फैसला आने दो, फि‍र देखते हैं, इसमें क्‍या किया जा सकता है। सुप्रीम कोर्ट ने कपिल सिब्‍बल की याचिका पर यह बात कहते हुए तारीख देने से भी मना कर दि‍या।

गडकरी ने कहा कि हमें सभी धर्मों, सभी भाषाओं, अलग-अलग वर्गों, विभिन्नताओं, पंथ और लिंग के सभी लोगों का सम्मान करना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमें उनके बीच समानता स्थापित करना चाहिए।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मैं हमेशा लोगों से कहता हूं कि कोई भी व्यक्ति अपना जाति या लिंग के कारण बड़ा नहीं होता है। वह अपने गुणों के कारण महान है, हमें समाज में अच्छे गुणों का समर्थन करना चाहिए, हम एक ही परिवार के अभिन्न अंग हैं।

उन्होंने कहा कि कुछ लोग मस्जिद जाते हैं, कुछ मंदिर जाते हैं, कुछ गुरुद्वारा जाते हैं। इस दौरान उन्होंने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के गीत ‘संस्कृति सब की एक चिरंतन, पुरखे जिसके हिंदू हैं, विराट सागर समाज अपना, हम सब इसके बिंदू हैं’ को याद किया।

उन्होंने कहा कि हमें समाज, लोगों के बीच धार्मिक सद्भावना बनानी चाहिए, हम भारतीय हैं, हम इस राष्ट्र के लिए लड़ेंगे और इसे राष्ट्रीय आर्थिक शक्ति बनाएंगे।

उन्होंने बताया कि यह बीजेपी की सोच है। गडकरी ने कहा कि ये छोटी घटनाएं समाज के लिए अच्छी नहीं हैं, हमें यह व्यापक हित में सोचना होगा कि हम कैसे इस समाज को चलाने वाले हैं और इसे देश बनाने वाले हैं।
ये भी पढ़ें
लखीमपुर खीरी कांड, मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष को मिली जमानत