कन्हैया और जिग्नेश ने थामा कांग्रेस का हाथ

Last Updated: मंगलवार, 28 सितम्बर 2021 (17:49 IST)
नई दिल्ली। सीपीआई नेता और JNU छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष और गुजरात के निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी ने की सदस्यता ली।


राहुल गांधी से मुलाकात के बाद कन्हैया और जिग्नेश ने पार्टी की सदस्यता ली। इस मौके पर केसी वेणुगोपाल ने कहा कि कन्हैया अभिव्यक्ति की आजादी के प्रतीक हैं। जिग्नेश गुजरात के निर्दलीय विधायक हैं। दोनों नेताओं के कांग्रेस में शामिल होने पर भाजपा ने तंज किया कि 'टुकड़े-टुकड़े गैंग का विलय कांग्रेस में।'

कन्हैया कुमार ने कहा कि एक सोच देश का भविष्य खराब करने की कोशिश में है। कांग्रेस नहीं बचेगी तो देश नहीं बचेगा। कांग्रेस सबसे पुरानी लोकतांत्रिक पार्टी है। कांग्रेस ही इस देश को बचा सकती है।

कन्हैया ने कहा कि देश 1947 से पहले वाली स्थिति में चला गया है। कांग्रेस वो पार्टी है, जो गांधी के विचारों को लेकर आगे चलेगी। विपक्ष कमजोर हो तो सत्ता तानाशाही हो जाती है।



और भी पढ़ें :