पति को वर्दी पहनाकर बना दिया ‘आइपीएस’, शि‍कायत के बाद फंस गईं एसडीपीओ ‘पत्‍नी’

reshu Krishna
Last Updated: मंगलवार, 3 अगस्त 2021 (22:28 IST)
हमें फॉलो करें
भागलपुर के कहलगांव एसडीपीओ रेशू कृष्णा ने खाकी वर्दी में पति की फोटो इंटरनेट मीडिया पर पोस्ट कर दी। इसके बाद तो यह मामला उन पर ही भारी पड़ गया।

भागलपुर जिले की एसडीपीओ ने अपने पति को आइपीएस बना दिया। मामला जब तूल पकड़ा तो पीएमओ ने ही खुद जांच के आदेश दे दिए हैं।

यह मामला कहलगांव एसडीपीओ रेशू कृष्णा का है। उन्होंने अपने पति को आइपीएस की वर्दी पहनाकर एक फोटो खिंचा और इंटरनेट मीडिया पर पोस्ट कर दिया। पति को खाकी वर्दी में फोटो खिंचाकर सोशल मीडिया में पोस्ट करना एसडीपीओ कहलगांव रेशू कृष्णा को भारी पड़ गया।

किसी ने शिकायत कर दी कि एसडीपीओ के पति पुलिस में नहीं हैं, बावजूद वर्दी में उनकी तस्वीर लगातार एसडीपीओ पोस्ट कर रही हैं, साथ में खुद भी हैं। मामला इतना हाइप्रोफाइल हो गया है। इसकी जांच पुलिस मुख्यालय ने की है।

दरअसल, पुलिस मुख्यालय भी इस मामले में कुछ बोलने से परहेज कर रहा है। उसे न कुछ लिखते बन रहा है और न कहते। पुलिस मुख्यालय ने इस मामले में भागलपुर एसएसपी को भी पत्र भेजा है। हालांकि, सूत्रों का कहना है कि इस मामले की रिपोर्ट सौंप दी गई।

मामला इसलिए भी उलझ गया है क्योंकि सैन्य और पुलिस पोशाकों को आम आदमी को पहनने पर पाबंदी है। इससे जुड़े तमाम नियम व कानून प्रावधान सशस्त्र बल अधिनियम, आधिकारिक गोपनीयता अधिनियम और भारतीय दंड संहिता (आइपीसी) में भी हैं। आधिकारिक गोपनीयता अधिनियम की धारा छह में इस पर प्रतिबंध है।
कहलगांव की एसडीपीओ रेशू कृष्णा पटना की निवासी हैं।

रेशू ने बीपीएससी परीक्षा में 13वीं रैंक हासिल की थी। भोजपुर जिले में अपनी तैनाती के दौरान कई कांडों का सफलतापूर्वक पर्दाफाश कर खबरों में आई थीं। इसके बाद महिला बटालियन में तैनात हुई। फिर कहलगांव में एसडीपीओ के रूप में तैनाती हुईं।

शिकायत करने वाले ने पीएमओ (प्रधानमंत्री कार्यालय) को भी पत्र भेजा कि एसडीपीओ यह कहती हैं कि उनके पति आइपीएस हैं और पीएमओ में तैनात हैं। इस शिकायत पर पीएमओ ने जांच की। वहां कोई आइपीएस नहीं है। इसके बाद पीएमओ ने मामले को बिहार पुलिस मुख्यालय को भेज दिया।



और भी पढ़ें :