दिल्ली में 2020 में प्रदूषक तत्वों का औसत स्तर 7 साल में सबसे कम रहा

पुनः संशोधित सोमवार, 8 मार्च 2021 (20:03 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली आर्थिक सर्वेक्षण रिपोर्ट के मुताबिक वर्ष 2014 के बाद से दिल्ली में विभिन्न प्रदूषक तत्वों मसलन पीएम10, पीएम2.5, नाइट्रोजन ऑक्साइड का औसत स्तर पिछले वर्ष सबसे कम रहा है।
सरकारी आंकड़ों के मुताबिक कुछ वर्षों से शहर में मुख्य प्रदूषक तत्वों के औसत स्तर में निरंतर कमी आ रही है। इसके मुताबिक, 2014 में पीएम2.5 की सालाना औसत सान्द्रता 149 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर थी, जो 2020 में घटकर 101 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर रह गई।

पीएम10 के सालाना औसत में भी कमी आई है। 2014 में पीएम10 का सालाना औसत 324 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर था जो 2020 में घटकर 187 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर रह गया। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने सोमवार को दिल्ली विधानसभा में आर्थिक सर्वेक्षण रिपोर्ट सदन पटल पर रखी, जिसमें यह जानकारी दी गई।

भारत में पीएम10 का 100 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर से कम स्तर सुरक्षित माना जाता है। रिपोर्ट में कहा गया कि पीएम10, पीएम2.5 का सभी निगरानी स्थलों पर सालाना औसत तय मानकों से अधिक पाया गया। इसके मुताबिक, नाइट्रोजन डाइऑक्साइड की सालाना औसत सान्द्रता 2014 के 82.45 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर से घटकर 2020 में 40.30 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर हो गई।

कार्बन मोनोऑक्साइड की सान्द्रता 2020 में 1.27 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर रह गई जो 2014 में 2.07 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर थी।(भाषा)



और भी पढ़ें :