बॉर्डर पर सीधे बातचीत कर सकेंगे भारत-चीनी सेना के अधिकारी, उत्तरी सिक्किम में हॉटलाइन स्थापित

पुनः संशोधित रविवार, 1 अगस्त 2021 (22:19 IST)
नई दिल्ली। और के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर विश्वास बहाली को और मजबूत करने के लिए उत्तर सेक्टर में दोनों देशों की सेनाओं के बीच एक स्थापित किया गया है। अधिकारियों ने रविवार को इसकी जानकारी दी।
ALSO READ:
Weather Update : जुलाई महीने में सामान्य से 7 प्रतिशत कम बरसे बादल, फिर भी बारिश-बाढ़ से बेहाल रहे कई राज्य
अधिकारियों ने बताया कि यह हॉटलाइन उत्तर सिक्किम के कांग्रा ला में भारतीय सेना और तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र के खम्बा द्जोंग में चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) के बीच स्थापित किया गया है।

सेना ने कहा कि इस हॉटलाइन का उद्देश्य ‘सीमा पर विश्वास बहाली और सौहार्दपूर्ण संबंधों की भावना’ को आगे बढ़ाना है। इसने यह भी कहा है कि दोनों सेनाओं के बीच हॉटलाइन सेवा 1अगस्त को शुरू हुई है और इत्तेफाक से इसी दिन पीएलए दिवस मनाया जाता है।
सेना ने कहा कि दोनों देशों की सेनाओं के बीच कमांडर स्तर पर बातचीत के लिये बेहतर स्थापित तंत्र है। एक बयान में कहा गया है कि विभिन्न क्षेत्रों में यह हॉटलाइन सीमाओं पर शांति बनाए रखने और इसे बढ़ाने में लंबा सफर तय करेगी।

सेना ने बताया कि इस हॉटलाइन की शुरुआत के मौके पर दोनों तरफ के ग्राउंड कमांडर मौजूद थे और आपसी भाईचारे और दोस्ती के संदेशों का आदान प्रदान किया गया। पूर्वी में जारी गतिरोध के बीच दोनों सेनाओं के बीच इस हॉटलाइन की स्थापना हुई है। (भाषा)



और भी पढ़ें :