मौत से लड़ रही 6 साल की पाकिस्तानी लड़की के मददगार बने गौतम गंभीर

पुनः संशोधित शनिवार, 19 अक्टूबर 2019 (20:39 IST)
नई दिल्ली। पूर्व क्रिकेट स्टार और भाजपा सांसद मौत से लड़ रही 6 साल की पाकिस्तानी लड़की के मददगार बने। गंभीर ने पाकिस्तान की ओमैमा अली के इलाज का बीड़ा उठाया है।
उन्होंने इलाज के लिए भारत आ रही इस लड़की को वीजा दिलाने में मदद की। उन्होंने प्रधानमंत्री और गृहमंत्री का शुक्रिया अदा करते हुए उम्मीद जताई कि इस पाकिस्तानी लड़की को भारत में बेहतर इलाज मिलेगा।

गंभीर ने कहा कि मुझे हमेशा से ही पाकिस्तान सरकार, आईएसआई और आतंकियों से समस्या रही है। अगर 6 साल की मासूम को भारत में ‍इलाज मिलता है तो इससे अच्छा क्या हो सकता है।
उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक पत्र शेयर किया है जिसमें उन्होंने विदेश मंत्री एस जयशंकर से अली के दिल के ऑपरेशन के लिए उसे और उसके परिवार को वीजा देने की अपील की है। उन्होंने अपने पत्र में पाकिस्तान में भारतीय दूतावास से भी अली के परिवार को वीजा दिलाने के लिए मदद मांगी है।
उन्होंने साथ में एक कविता भी शेयर करते हुए कहा- उस पार से एक नन्हे दिल ने दस्तक दी, इस पार दिल ने सब सरहदें मिटा दी। उन नन्हे कदमों के साथ बहती हुई मीठी हवा भी आई है, कभी-कभी ऐसा भी लगता है जैसे बेटी घर आई है।


और भी पढ़ें :