Live Updates : दिल्ली पुलिस का बड़ा बयान, नहीं किया राकेश टिकैत को गिरफ्तार

Last Updated: शनिवार, 26 जून 2021 (15:02 IST)
नई दिल्ली। कृषि आंदोलन के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसान पिछले 7 माह से दिल्ली बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे हैं। आंदोलन के 7 माह पुरे होने पर किसानों ने आज कई स्थानों पर प्रदर्शन किया। आंदोलन से जुड़ी हर जानकारी... 
03:01PM, 26th Jun
-बीकेयू के मीडिया प्रभारी धर्मेंद्र मलिक ने भी बताया कि टिकैत को गिरफ्तार नहीं किया गया है।
-मलिक ने कहा, 'पुलिस ने टिकैत को गिरफ्तार नहीं किया था। वह अब भी गाजीपुर में विरोध स्थल पर है, जहां कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन चल रहा है। विरोध स्थल पर संघर्ष की कोई स्थिति नहीं है।'
-दिल्ली पुलिस ने केंद्र के तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों के विरोध मार्च की संभावना के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी की सीमाओं पर शनिवार को सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है।
-किसानों के प्रतिनिधि विभिन्न राज्यों के राज्यपालों को 26 जून को ज्ञापन सौंपेंगे। दिल्ली का राज निवास सिविल लाइंस इलाके में स्थित है।
03:01PM, 26th Jun
-दिल्ली पुलिस ने भारतीय किसान संघ (बीकेयू) के नेता राकेश टिकैत की गिरफ्तारी की खबरों को शनिवार को फर्जी बताया।
-पुलिस ने बताया कि इस तरह की फर्जी खबरें फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
-पुलिस उपायुक्त (पूर्व) प्रियंका कश्यप ने ट्वीट किया, 'फर्जी खबर! राकेश टिकैत की गिरफ्तारी से संबंधित खबर झूठी है। कृपया ऐसी फर्जी खबरों/ट्वीट से दूर रहें। इस तरह की झूठी खबरें/ट्वीट फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।'
02:08PM, 26th Jun
-पंचकुला में किसानों का प्रदर्शन।
-राज्यपाल को ज्ञापन सौंपने जा रहे हैं किसान।
 
12:46PM, 26th Jun
-कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने ट्‍वीट कर कहा- किसान अपना आंदोलन खत्म करें।
-कृषि कानून पर सरकार बातचीत करने को तैयार। 
-किसान आंदोलन के आज यानी शुक्रवार को 7 महीने पूरे हो गए हैं। 26 नवंबर 2020 को हुई थी किसान आंदोलन की शुरुआत। 
-किसान खेती बचाओ, लोकतंत्र बचाओ दिवस मना रहे हैं। 
-किसानों की मांग- एमएसपी को कानूनी दर्जा मिले। एमएसपी से कम पर खरीद अपराध घोषित हो। 
12:46PM, 26th Jun
-कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन के सात महीने पूरा होने पर शनिवार को कहा कि उनकी पार्टी इन सत्याग्रही अन्नादाताओं के साथ खड़ी है
-राहुल गांधी ने ट्वीट किया, 'सीधी-सीधी बात है- हम सत्याग्रही अन्नदाता के साथ हैं।'
12:45PM, 26th Jun
-केंद्र के 3 नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शनकारी किसान पिछले साल 26 नवंबर से दिल्ली की सीमाओं पर डेरा डाले हुए हैं।
-वे इन तीनों कानूनों को रद्द करने और फसल के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की गारंटी देने के लिए एक नया कानून लाने की मांग कर रहे हैं।
-इन विवादास्पद कानूनों पर बने गतिरोध को लेकर हुई किसानों और सरकार के बीच कई दौर की वार्ता बेनतीजा रही।



और भी पढ़ें :