खड़गे के खिलाफ चुनाव नहीं लड़ेंगे दिग्विजय सिंह, बताया क्यों पीछे लिए कदम?

पुनः संशोधित शुक्रवार, 30 सितम्बर 2022 (12:26 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। वरिष्ठ कांग्रेस नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि वे मल्लिकार्जुन खड़गे के खिलाफ चुनाव नहीं लड़ेंगे।

दिग्विजय ने कहा कि मल्लिकार्जुन खड़गे मेरे वरिष्‍ठ नेता हैं और मैं उनके खिलाफ चुनाव लड़ने के बारे में सोच भी नहीं सकता। इतना ही नहीं दिग्विजय खड़गे के प्रस्तावक भी होंगे। उल्लेखनीय है कि दिग्विजय चुनाव लड़ने का फैसला कर चुके थे और आज दाखिल करने वाले थे। उनके नाम का प्रस्ताव करने के लिए मध्यप्रदेश से 11 कांग्रेस विधायक भी दिल्ली पहुंचे थे।

ये दिग्गज भी होंगे प्रस्तावक : माना जा रहा है कि खड़गे हाईकमान के उम्मीदवार है। दिग्विजय के साथ ही अशोक गहलोत, प्रमोद तिवारी समेत कई दिग्गज भी खड़गे के प्रस्तावक होंगे। गहलोत ने तो चुनाव को फ्रैंडली मैच करार दिया।


आम सहमति से हो चुनाव : कांग्रेस में बदलाव की बात करने वाले नेताओं के समूह ‘जी23’ के सदस्य मनीष तिवारी ने शुक्रवार को कांग्रेस अध्यक्ष पद को लेकर आम सहमति बनाने का आह्वान किया। तिवारी ने ट्वीट किया, 'नेतृत्व, वैचारिक स्पष्टता, विमर्श और संसाधनों तक पारदर्शी पहुंच ‘एक’ राजनीतिक दल के स्तंभ हैं।'

उन्होंने कहा कि हालिया घटनाक्रमों को देखते हुए कांग्रेस को पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के शब्दों पर चलते हुए आम सहमति बनाने व प्रभावी नेतृत्व के लिए काम करना चाहिए।

Edited by : Nrapendra Gupta



और भी पढ़ें :