बांग्लादेश में हिन्दुओं पर हिंसा को लेकर अयोध्या में गुस्सा, कहा- सोची-समझी साजिश...

Author संदीप श्रीवास्तव| Last Updated: बुधवार, 20 अक्टूबर 2021 (19:47 IST)
अयोध्या। बांग्लादेश में हिन्दुओं के खिलाफ हो रही हिंसा को लेकर अयोध्या के साधु-संतों और राजनेताओं में काफी गुस्सा है। वे इसे सोची-समझी साजिश का हिस्सा बता रहे हैं।


अयोध्या के परमहंस स्वामी ने कहा कि बांग्लादेश में लगातार हिंदुओं पर अत्याचार हो रहे हैं। हिंदुओं के मंदिरों को तोड़ा जा रहा है। दुर्गा पंडालों में आगजनी की गई है। मेरी भारत सरकार से मांग है कि बांग्लादेश या पाकिस्तान में रह रहे हिंदुओं को भारत सुरक्षित बुला लिया जाए और भारत में रह रहे जितने भी मुसलमान हैं इनको पाकिस्तान और बांग्लादेश भेज दिया जाए। केंद्र सरकार हमारी बातों को गंभीरता से संज्ञान में लें नहीं तो इसका अंजाम बुरा होगा।
वहीं, भाजपा के फायर ब्रांड नेता और पूर्व राज्यसभा सदस्य विनय कटियार ने कहा कि यह बांग्लादेश सरकार की सोची-समझी रणनीति है, साजिश है, जिससे बांग्लादेश में रह रहे हिंदू वहां से पलायन कर जाएं। उन्होंने कहा कि भारत के भी कुछ हिस्सों में हिंदुओं पर अत्याचार हो रहा है। उत्तर प्रदेश में भी होता पर यहां पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी इतने सख्त हैं कि किसी की हिम्मत नहीं है। हमारी भारत सरकार से मांग है कि वे बांग्लादेश के प्रधानमंत्री से बात कर इस मामले को जल्द से जल्द शांत कराएं।
बाबरी मस्जिद मामले में पक्षकार रहे इकबाल अंसारी ने कहा कि दुनिया में कहीं भी किसी पर भी अत्याचार होता है तो अत्याचार करने वाले के ऊपर कठोर कार्रवाई व सख्त कार्रवाई की जाए। अपराधी का कोई धर्म नहीं होता। अपराधी कोई भी जाति का हो उसके ऊपर सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। बांग्लादेश में हिंदुओं के ऊपर जो भी अत्याचार कर रहे हैं, उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई होनी चाहिए।
अयोध्या हिंदू नेता संतोष दुबे ने कहा कि भारत सरकार मौन क्यों है? सरकार को इस मामले में सख्त कदम उठाने चाहिए सेना के जवानों को वहां भेजकर हिंदुओं की रक्षा करनी चाहिए, नहीं तो आने वाले समय में भारत में भी इसी प्रकार की स्थिति हो जाएगी। हमारी सरकार से मांग है कि जल्द से जल्द हस्तक्षेप कर कार्रवाई करे।



और भी पढ़ें :