पेगासस एक साजिश है, भारत की विकास यात्रा पटरी से उतारना मकसद

Last Updated: सोमवार, 19 जुलाई 2021 (21:17 IST)
नई दिल्‍ली, गृह मंत्री अमित शाह ने संसद में मॉनसून सत्र की शुरुआत से पहले पेगासस फोन हैकिंग रिपोर्ट के आने पर संदेह जताया है।

उन्‍होंने इसके लीक होने के पीछे बड़ी साजिश की ओर इशारा किया है। शाह ने दो टूक कहा है कि कुछ लोग देश के लोकतंत्र को बदनाम करना चाहते हैं। उनका मकसद भारत की विकास यात्रा को पटरी से उतारना है। लेकिन, इन ताकतों के मंसूबों को सरकार सफल नहीं होने देगी। मॉनसून सत्र देश में विकास के नए पैमाने स्‍थापित करेगा

गृह मंत्री ने शाम को इसे लेकर एक बयान जारी किया। उन्‍होंने कहा, आज संसद का मॉनसून सत्र शुरू हुआ। इस घटनाक्रम को पूरे देश ने देखा। हमारे लोकतंत्र को बदनाम करने के लिए मॉनसून सत्र से ठीक पहले रविवार देर शाम एक रिपोर्ट आती है। इसे कुछ वर्गों की ओर से केवल एक ही मकसद के साथ फैलाया जाता है।

शाह ने बताया कि इस मॉनसून सत्र से देशवासियों की ढेरों अपेक्षाएं और उम्मीदें जुड़ी हैं। देश के किसानों, युवाओं, महिलाओं और समाज के गरीब और वंचित वर्ग के कल्याण के लिए कई महत्वपूर्ण विधेयक सदन में सार्थक बहस और चर्चा के लिए तैयार हैं।



और भी पढ़ें :