सेना की 2 महिला अधिकारी लड़ाकू पायलट के रूप में लेंगी प्रशिक्षण

पुनः संशोधित गुरुवार, 10 जून 2021 (00:05 IST)
नई दिल्ली। भारतीय सेना ने एक ऐतिहासिक कदम उठाते हुए 2 महिला अधिकारियों को अपनी ‘एविएशन’ इकाई में के रूप में प्रशिक्षण के लिए चुना है। अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी। सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे ने महिलाओं को पायलट के रूप में शामिल करने के प्रस्ताव को छह महीने पहले स्वीकृति दी थी।
अभी सेना के ‘एविएशन’ विभाग में महिलाओं को ‘एयर ट्रैफिक कंट्रोल’ और ‘ग्राउंड ड्यूटी’ की जिम्मेदारी दी जाती है। अधिकारियों ने बताया कि चयनित दो महिला अधिकारियों को महाराष्ट्र के नासिक में स्थित ‘कॉम्बैट आर्मी एविएशन ट्रेनिंग स्कूल’ में प्रशिक्षण दिया जाएगा।

अधिकारियों ने बताया कि 15 महिला अधिकारियों ने सेना की एविएशन इकाई में शामिल होने के लिए आवेदन किया था लेकिन केवल दो अधिकारी कड़ी परीक्षा में सफल हो सकीं। दोनों महिला अधिकारी सफलतापूर्वक प्रशिक्षण पूरा करने के बाद अगले साल जुलाई तक ड्यूटी पर तैनात होंगी। वर्ष 2018 में वायुसेना की फ्लाइंग ऑफिसर अवनि चतुर्वेदी ने अकेले एक लड़ाकू विमान उड़ाने वाली पहली भारतीय महिला होने का इतिहास रचा था।(भाषा)



और भी पढ़ें :