वार्ड और शहर को ग्रीन रखने के संकल्प के साथ भाजपा ने जारी किया अपना संकल्प पत्र

Author विकास सिंह| Last Updated: शुक्रवार, 1 जुलाई 2022 (14:13 IST)
हमें फॉलो करें
भोपाल। में नगरीय निकाय चुनाव के लिए भाजपा ने आज अपना जारी कर दिया। नागारिकों को विश्वस्तरीय सुविधाएं देने हेतु कृत संकल्पित संकल्प पत्र जारी करने पर भाजपा ने पूरे प्रदेश में ‘‘ग्रीन संकल्प’’ कार्यक्रम का आयोजन किया। जिसमें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा के साथ सभी नगर निगमों के महापौर और पार्षद प्रत्याशी भी शामिल हुए।

कार्यक्रम के प्रदेश की समस्त नगरीय निकायों में एक साथ, एक स्थान और एक समय में वृक्षारोपण का कार्यक्रम किया गया। जिसमें भाजपा के कुल 6 हजार 507 पार्षद प्रत्याशी और नगर निगम के 16 महापौर प्रत्याशियों सहित कुल 6523 प्रत्याशियों ने एक साथ पौधारोपण कर ग्रीन संकल्प लिय़ा।

ग्रीन संकल्प कार्यक्रम के जरिए भाजपा ने दावा किया कि देश के इतिहास में चुनाव के दौरान इस तरह का पहला कार्यक्रम हुआ। कार्यक्रम में प्रत्याशियों ने अपने नगर और महानगर को हरा भरा, स्वच्छ रखने और प्रदेश की जनता के कल्याण और समग्र विकास का संकल्प लिया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ग्रीन संकल्प का अर्थ समझाते हुए कहा कि मेरा वार्ड हरा भरा रहेगा और मेरा नगर पूरी तरह से स्वच्छ रहेगा। ग्रीन संकल्प विकास का संकल्प है। भाजपा वार्ड और शहर को विकसित करने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।

भाजपा के संकल्प पत्र के अन्य मुख्य बातें-

नगरीय निकाय चुनाव के लिए भाजपा ने जो संकल्प पत्र जारी किया है उसमें 21 बिंदुओं में शहरों और नगरों के विकास का खाका खींचा गया है। शहरों को स्वच्छ बनाने के बाद मूलभूत जरूरतों को पूरा करने के लिए संकल्प पत्र में कई बड़े वादे किए गए है।



-गरीबों के व्यवसाय के लिए व्यापार सुगम करेंगे।
-शहर रोजगार केंद्रित बनेंगे, लघु उद्योग कुटीर उद्योगों का जाल बिछे, बड़े उद्योग भी लाएंगे।
-इनक्यूबेशन सेंटर खोलेंगे, स्टार्टअप को प्रोत्साहित करेंगे।
-मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के अंतर्गत मध्यप्रदेश के बेटे-बेटियों को भी उद्योगपति बनाने के लिए पैसा देंगे और जिसकी गारंटी मध्य प्रदेश सरकार लेगी
-रोजगार के अवसरों का सृजन व्यापक पैमाने पर किया जाएगा।
-शहर में सड़कों पर घूम रहे गौवंश के लिए हर नगन में एक गौशाला का निर्माण
-नगर में डॉग केयर सेंटर चिन्हिंत स्थानों पर बनाया जाएगा।




और भी पढ़ें :