कांग्रेस की धमकी के बाद मध्यप्रदेश पुलिस ने दी 'धाकड़' गर्ल कंगना रनौत को कड़ी सुरक्षा

Last Updated: शुक्रवार, 12 फ़रवरी 2021 (14:51 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश पुलिस ने के कुछ नेताओं द्वारा अभिनेत्री को की गई धमकी के मद्देनजर उन्हें कड़ी सुरक्षा व्यवस्था प्रदान की है। दरअसल, कांग्रेस नेताओं ने कंगना को धमकी दी थी कि यदि वे अपने ट्वीट के लिए किसान नेताओं से माफी नहीं मांगती हैं तो उन्हें जिले में फिल्म की शूटिंग नहीं करने दी जाएगी।
बैतूल जिले के सारणी कस्बे में नगर पुलिस अधीक्षक (सीएसपी) अभय राम चौधरी ने फोन पर बताया कि प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बैतूल की पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद को इस संबंध में फोन किया था, इसके बाद अभिनेत्री की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है तथा हथियारबंद पुलिसकर्मियों को फिल्म शूटिंग वाले क्षेत्र के आसपास तैनात किया गया है।
चौधरी ने बताया कि पुलिसकर्मियों को कोयले से बिजली बनाने वाले संयंत्र के मुख्य गेट क्रमांक 2 और 4 पर तैनात किया गया है। अभिनेता शूटिंग के लिए आमतौर पर यहीं से प्रवेश करते हैं। सीएसपी ने बताया कि सारणी से लगभग 45 किलोमीटर दूर कंगना के ठहरने के स्थान पर भी एक पुलिस निरीक्षक को उनकी सुरक्षा की ज़िम्मेदारी दी गई है।
उन्होंने कहा कि हम यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि कंगना को किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़े। निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार सारणी में उनकी शूटिंग 17 फरवरी को समाप्त होगी। इससे पहले गुरुवार को प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा था कि सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि बहन-बेटी कंगना को शूटिंग के दौरान कोई समस्या न हो।
गौरतलब है कि कंगना की नई फिल्म 'धाकड़' की बैतूल जिले के सारणी इलाके में शूटिंग चल रही है। प्रदेश कांग्रेस सेवादल के सचिव मनोज आर्य और बैतूल जिले के चिचोली ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नेकराम यादव ने बुधवार को बैतूल में तहसीलदार को इस मामले में एक ज्ञापन सौंपा था। इसमें कहा गया था कि अगर कंगना ने दिल्ली की सीमाओं पर चल रहे किसानों के आंदोलन के खिलाफ अपनी टिप्पणी के लिए शुक्रवार शाम तक माफी नहीं मांगी तो उन्हें सारणी के इलाके में फिल्म की शूटिंग करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया कि कंगना ने किसानों को बदनाम किया है।
इस मामले में गृहमंत्री मिश्रा ने तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि प्रदेश कांग्रेस प्रमुख कमलनाथ को अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं को फिल्म की शूटिंग में बाधा डालने से रोकना चाहिए तथा मैंने बैतूल पुलिस अधीक्षक से टेलीफोन पर बात की है। कानून अपना काम करेगा और उसका पालन किया जाएगा। मैं बहन-बेटी कंगना से संपर्क करने की कोशिश कर रहा हूं। उन्हें (कंगना) किसी समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा। उल्लेखनीय है कि ट्विटर ने हाल ही में किसानों के विरोध को लेकर कंगना के कुछ विवादास्पद ट्वीट् हटा दिए हैं। (भाषा)



और भी पढ़ें :