अभा सर्वभाषा संस्कृति समन्वय समिति ने मनाई डबल प्लैटिनम जुबली

इंदौर। देश के विभिन्न 14 राज्यों में अपने राष्ट्रीय अधिवेशन कर चुकी देश की अग्रणी साहित्यिक संस्था अखिल भारतीय सर्वभाषा संस्कृति समन्वय समिति ने इस कोरोना काल में साहित्य, कला और संस्कृति के क्षेत्र में स्तरीय और ज्ञानवर्धक लाइव प्रस्तुतियों के साथ एक नया कीर्तिमान स्थापित किया है।
संस्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष अंतराष्ट्रीय साहित्यकार पंडित सुरेश नीरव ने बताया कि 29 अप्रैल से संस्था द्वारा 210 से अधिक निर्बाध लाइव श्रृंखला के जरिए, देश विदेश के प्रख्यात साहित्यकार, राज्यपाल, प्रशासनिक अधिकारी, आध्यात्मिक हस्तियां, वैज्ञानिक, आईटी प्रोफेशनल, भजन गायक, फिल्मी गायक-गीतकार, शास्त्रीय गायक पुरातत्वविद, गृह सचिव तक शामिल हुए हैं।
संस्था ने पहली प्लैटिनम जुबली 15 अगस्त 2020 को राष्ट्रीय कवि सम्मेलन मना कर की थी। उल्लेखनीय है कि इस संस्था में हॉलैंड, नॉर्वे, ऑस्ट्रेलिया, यूएस, कनाडा, यूके, तंजानिया आदि अनेक देशों से अंतरराष्ट्रीय साहित्यकारों ने अपनी प्रस्तुतियां दी हैं, वहीं देश के वरिष्ठतम साहित्यकार इन प्रस्तुतियों में जुड़े हैं।

रोज संध्या 5 से 6 बजे होने वाले इस लाइव में श्रोता के रूप में पूरे विश्व से अनेक बुद्धिजीवी शामिल होते हैं। बुद्धिजीवियों का 5200 से ज़्यादा सदस्य संख्या वाला यह समूह, अब तक 5 लाख लाइक्स को पार कर चुका है जो अपने आप में एक कीर्तिमान है।

पंडित सुरेश नीरव ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय रूप ले चुकी इस संस्था के लाइव कार्यक्रम का लेखा-जोखा देश के वरिष्ठ कवि रामवरण ओझा (ग्वालियर) एवं रोचक समीक्षाएं पीएन सिंह (रिटायर्ड डाइरेक्टर दूरदर्शन पटना) एवं तृप्ति मिश्रा (वरिष्ठ लेखिका, इंदौर) द्वारा की जाती हैं, जो अनुपम है।

हाल ही में संस्था द्वारा 200 लाइव पूरे होने पर तीन दिवसीय महा-आयोजन रखा गया जिसमें राष्ट्रीय- अंतरराष्ट्रीय साहित्यिक और ज्ञानवर्धक प्रस्तुतियां, कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया।



और भी पढ़ें :