डेंगू के डर से जबलपुर में कूलर चलाने पर रोक, 1 महीने नहीं चला सकेंगे कूलर

Last Updated: मंगलवार, 14 सितम्बर 2021 (14:36 IST)
जबलपुर। मध्यप्रदेश के में डेंगू का कहर बढ़ता ही जा रहा है। जिला प्रशासन ने डेंगू को बढ़ते प्रकोप को देखते हुए चलाने पर एक माह की रोक लगा दी।
ALSO READ:
अब डेंगू ने डराया, यूपी और मध्यप्रदेश समेत कई राज्य बुखार में 'तपे'
निगमायुक्त संदीप जीआर ने कहा कि डेंगू के बढ़ते मामलों को देखते हुए शहर में कूलर चलाने पर रोक लगाई गई है। अगर कोई व्यक्ति कूलर चलाता पाया गया तो उसके खिलाफ सख्‍त कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने कहा कि कूलर से ही मच्छर पनप रहे हैं। टीम जागरूकता फैलाने के साथ ही इस बात पर भी नजर रखेगी की कोई कूलर ना चलाए। लोगों से भी कहा गया है कि अगर कोई कूलर चलाए तो हमें इसकी शिकायत करें। इसमें उन्हीं का फायदा है।
उल्लेखनीय है कि भोपाल, जबलपुर, इंदौर, ग्वालियर, बालाघाट, रतलाम, मंदसौर, आगर मालवा और छिंदवाड़ा में डेंगू के मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा होता जा रहा है।

डेंगू से निपटने के लिए प्रदेश में 15 सितंबर से ‘डेंगू से जंग जनता के संग’ अभियान चलाने का भी फैसला किया गया है। अभियान के तहत मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान खुद सुबह 10 बजे से 10.30 बजे तक जनजागरुकता करने के लिए निकलेंगे। अभियान में फॉगिंग के साथ हर मोहल्ले में लार्वा नष्ट करने लिए जलभराव वाले स्थान पर दवाई डालने का काम किया जाएगा। आयुष्मान योजना के तहत डेंगू मरीजों का इलाज होगा।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लोगों से अपील की है कि वह घरों में कूलर, वाटर टेंक और आसपास गड्ढों में जमा पानी को उलटाकर स्वच्छता अभियान चलाएं। इसके साथ ऐसे घरों और संस्था जहां जलभराव के साथ-साथ डेंगू के लार्वा पाए जा रहे है वहां लोगों पर जुर्माना लगाने की कार्रवाई की जाए।



और भी पढ़ें :