नरेन्द्र मोदी से पहले, यह 4 नेता भी बन चुके हैं 2 बार देश के प्रधानमंत्री

यह पीएम मोदी के दूसरे कार्यकाल की शुरुआत होगी। इससे पहले भी कई बार ऐसा हुआ है जब किसी पार्टी के एक ही नेता को दो या उससे अधिक बार प्रधानमंत्री बनने का मौका मिला। आइए जानते हैं ऐसे नेताओं के बारे में जिन्होंने आजादी के बाद दो या दो से अधिक बार का नेतृत्व किया।

1. जवाहरलाल नेहरु ( 1947 से 1964 ) : देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के नाम यह अनोखा रिकॉर्ड है। उनका पीएम के रूप में कार्यकाल 16 साल 286 दिन का रहा। जो अब तक किसी नेता द्वारा पीएम के पद पर सबसे अधिक है।

2. इंदिरा गांधी ( 1966 से 1977 और 1980 से 1984 ) : पंडित जवाहरलाल नेहरू की तरह उनकी पुत्री श्रीमती इंदिरा गांधी भी देश में बड़े नेता के तौर पर उभरीं। उन्होंने भी तीन बार पीएम के रूप में देश की बागडोर संभाली। वे 1966 से 1977 तक दो बार और फिर 1980 से 1984 तक तीसरी बार प्रधानमंत्री बनीं।1984 में प्रधानमंत्री रहते हुए ही उनकी हत्या के बाद, उनके पुत्र राजीव गांधी ने पीएम पद संभाला।

3. अटल बिहारी वाजपेयी ( 1996 से 1996 और 1998 से 2004 ) : अटल बिहारी वाजपेयी भी दो से ज्यादा बार देश के पीएम बने। पहली बार 1996 में वे प्रधानमंत्री बने। पीएम पद की शपथ के मात्र 16 के बाद उन्हें बहुमत न साबित कर पाने के कारण इस्तीफा देना पड़ा। 1998 में हुए आम चुनावों के बाद, अटलजी की पार्टी बहुमत से विजयी हुई और उन्होंने एक बार फिर पीएम पद की शपथ ली।

यह सरकार 13 महीने चली। इस बार फिर से गठबंधन की एक पार्टी ऑल इंडिया अन्ना द्रविड मुनेत्र कडगम द्वारा बहुमत वापस ले लेने से सरकार गिर गयी।
1999 में कारगिल युद्ध के बाद, अटलजी के नेतृत्व वाले एनडीए की लोकप्रियता चरम पर थी और गठबंधन ने 543 में से 298 सीटें जीतीं। 2005 में पीएम वाजपेयी ने सक्रिय राजनीति से संन्यास घोषित कर दिया। 2018 में उनका स्वास्थ्य कारणों के चलते देहांत हो गया।

4. मनमोहन सिंह ( 2004 से 2014 ) : 2004 में जब सोनिया गांधी के नेतृत्व में यूपीए गठबंधन ने बहुमत जीता तो श्रीमती सोनिया गांधी को पीएम पद का उम्मीदवार माना गया लेकिन अचानक से उन्होंने मनमोहन सिंह को पीएम पद के लिए नेता चुना।

श्रीमती गांधी का फैसला काफी चौंकाने वाला रहा क्योंकि मनमोहन सिंह ने लोकसभा में कभी कोई सीट नहीं जीती थी। सिंह 2009 तक पीएम रहे। 2009 में हुए आम चुनाव में एक बार फिर यूपीए को भारी सफलता मिली और मनमोहन सिंह फिर प्रधानमंत्री बन गए। 2014 तक वे देश के प्रधानमंत्री रहे।

5. नरेन्द्र मोदी ( 2014 से 2019 और 2019 में पीएम पद की शपथ ) : नरेन्द्र दामोदरदास मोदी वर्तमान में देश के
सर्वाधिक लोकप्रिय नेता हैं। 2014 में उनके नेतृत्व में आम चुनाव बहुमत से जीतने के बाद और 5 साल तक देश में सफल पीएम बन सरकार चलाने के बाद, एक बार फिर मौका है जब पीएम मोदी अगले 5 सालों के लिए प्रधानमंत्री पद संभालेंगे।

2014 में एनडीए ने नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में चुनाव लडा और भारी बहुमत हासिल किया। इस सरकार में नरेन्द्र मोदी पीएम बने। 2019 में हुए आम चुनावों में पीएम मोदी के नेतृत्व में फिर एनडीए ने जबरदस्त प्रदर्शन किया है और पीएम मोदी एक बार फिर देश के प्रधानमंत्री बन चुके हैं।

 

और भी पढ़ें :