लोगों से करते हैं वोटिंग की अपील, खुद वोट नहीं डाल पाएंगे राहुल द्रविड़

पुनः संशोधित सोमवार, 15 अप्रैल 2019 (17:45 IST)
बेंगलुरू। मतदान को बढ़ावा देने के लिए चुनाव आयोग के अभियान का हिस्सा रहे पूर्व क्रिकेटर राहुल द्रविड़ में वोट नहीं डाल पाएंगे। उन्होंने यहां अपना आवास बदलने के बाद अपना नाम मतदाता सूची में शामिल कराने के लिए कोई कदम नहीं उठाया।
द्रविड़ और उनका परिवार इंदिरानगर स्थित अपने पैतृक घर से अश्वतनगर चला गया था और इस कारण से उनका और उनकी पत्नी का नाम मतदाता सूची से हटा दिया गया। के मुख्य निर्वाचन अधिकारी संजीव कुमार ने सोमवार को कहा कि यह उनके भाई द्वारा नाम हटाने के लिए जमा कराए गए फॉर्म सात के आधार पर हुआ।

कुमार ने कहा कि नए आवास में जाने के बाद राहुल द्रविड़ ने अपना नाम मतदाता सूची में शामिल कराने के लिए कदम नहीं उठाया जबकि पंजीकरण अधिकारियों ने वहां कई बार दौरा किया। निर्वाचन अधिकारियों को द्रविड़ का नाम सूची में नहीं होने के बारे में पता मतदाता सूची को अंतिम रूप दिए जाने के बाद चला। कर्नाटक में पहले चरण का मतदान 14 सीटों के लिए 18 अप्रैल को होगा जिसमें बेंगलुरू शामिल है।
चुनाव आयोग ने गत वर्ष मई में कर्नाटक विधानसभा चुनाव के दौरान मतदाता जागरूकता अभियान के लिए द्रविड़ से सम्पर्क किया था। दूसरी ओर वरिष्ठ प्रशासक और आईपीएल के चेयरमैन ने द्रविड़ का नाम मतदाता सूची में जोड़ने की अपील की है।

उल्लेखनीय है कि दिग्गज क्रिकेटर राहुल द्रविड़ कर्नाटक में चुनाव आयोग के ब्रांड एंबेसेडर रह चुके हैं। अक्सर वे टीवी पर लोगों से मतदान की अपील करते हुए नजर आते थे, लेकिन अब वे खुद ही वोट नहीं डाल पाएंगे।

 

और भी पढ़ें :