लोकसभा चुनाव 2019 : गौतम गंभीर पर 2 मतदाता पहचान पत्र रखने का आरोप

Last Updated: शनिवार, 27 अप्रैल 2019 (01:17 IST)
नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी ने शुक्रवार को दावा किया कि पूर्वी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र से भाजपा के प्रत्याशी का नाम मतदाता सूची में 2 बार दर्ज है और आप ने उनके खिलाफ इस मामले में तीस हजारी अदालत में आपराधिक दर्ज करवाई है।
आप के इन आरोपों पर दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि आप चुनाव हार रही है इसलिए इस तरह के मुद्दे उठा रही है। गंभीर के सभी दस्तावेज सही हैं और कोई उन्हें चुनाव लड़ने से नहीं रोक सकता। तिवारी ने कहा कि हम सकारात्मक राजनीति कर रहे हैं और उनकी नकारात्मक राजनीति से प्रभावित नहीं होंगे।

पूर्वी दिल्ली से आप की उम्मीदवार आतिशी ने कहा कि यह आपराधिक मामला है और गंभीर को तत्काल अयोग्य करार दिया जाना चाहिए। हमने इस मामले में गंभीर के खिलाफ तीस हजारी अदालत में आपराधिक शिकायत दर्ज कराई है।
आतिशी ने आरोप लगाया कि गंभीर के पास राजेंद्र नगर और करोलबाग के 2 हैं और उन्हें इस अपराध के लिए 1 साल तक की कैद की सजा का सामना करना पड़ सकता है। आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मतदाताओं को ऐसे उम्मीदवार पर अपना वोट बर्बाद नहीं करना चाहिए, जो जल्द ही अयोग्य हो जाएगा। जनप्रतिनिधित्व कानून की विभिन्न धाराओं के तहत शिकायत दर्ज की गई है।
आतिशी ने कहा कि गंभीर ने नामांकन दाखिल करते समय निर्वाचन अधिकारी को जमा अपने हलफनामे में उल्लेख किया है कि उनका नाम केवल राजेंद्र नगर विधानसभा सीट पर मतदान के लिए दर्ज है लेकिनजांच पड़ताल करने पर पता चला कि गंभीर करोलबाग विधानसभा क्षेत्र में भी मतदाता के रूप में पंजीकृत हैं। आतिशी का आरोप है कि गंभीर ने नामांकन दाखिल करते समय जान-बूझकर यह तथ्य छिपाया ताकि नामांकन खारिज नहीं हो। (भाषा)

 

और भी पढ़ें :