0

‘जॉर्ज फ्लॉयड’ पर भारत में हंगामा… ‘मजदूरों और साधुओं’ पर खामोशी क्‍यो?

शुक्रवार,जून 5, 2020
abhay deol
0
1
आइए जानते हैं ग्रहण काल के समय किन बातों को विशेष सावधानी रखना आवश्‍यक है तथा ग्रहण के बाद किन नियमों का पालन जरूरी है।
1
2
ग्रहण एक खगोलीय घटना है जिसका ज्योतिष शास्त्र में विशेष महत्व होता है। भगवान श्रीकृष्‍ण के 108 नामों का चंद्र ग्रहण के दौरान जाप करने से समस्त विपत्तियों का नाश होता है।
2
3
पर्यावरण उन सभी भौतिक, रासायनिक एवं जैविक कारकों की कुल इकाई है जो किसी जीवधारी अथवा पारितंत्रीय आबादी को प्रभावित करते हैं तथा उनके रूप, जीवन और जीविता को तय करते हैं।
3
4
ग्रहण के बाद दान का विशेष महत्व माना जाता है। चंद्रग्रहण के समय सूर्य, चंद्रमा एवं पृथ्वी एक ही क्रम में होते हैं, जिसके कारण चंद्रग्रहण लगता है। ग्रहण के बाद कुछ विशेष वस्तुओं का दान करने से ग्रहण के दुष्प्रभाव दूर होते हैं।
4
4
5
मनुष्य इस धरती का सबसे क्रूर और अनुपयोगी जानवर है। इसका इस धरती पर से अस्तित्व मिट जाना ही धरती के लिए अपनी जिंदगी बचाने जैसा होगा। धरती का हर पेड़ यही चाहता होगा, हर पक्षी यही चाहता होगा और हर पशु भी यही प्रार्थना करता होगा।
5
6
अमेरिका में इस वक्त ख़ंदकों की लड़ाई सड़कों पर लड़ी जा रही है। दुनिया भर की नज़रें भी अमेरिका पर ही टिकी हुईं हैं। कोरोना के कारण सबसे ज़्यादा मौतें अमेरिकी अस्पतालों में हुईं हैं पर देश के एक शहर में पुलिस के हाथों हुई एक अश्वेत नागरिक की मौत ने ...
6
7
हिन्दुत्व वैज्ञानिक जीवन पद्धति है। प्रत्येक हिन्दू परम्परा के पीछे कोई न कोई वैज्ञानिक रहस्य छिपा हुआ है। हिन्दू धर्म के संबंध में एक बात दुनिया मानती है कि हिन्दू दर्शन 'जियो और जीने दो' के सिद्धांत पर आधारित है। यह विशेषता किसी अन्य धर्म में नहीं ...
7
8
चंद्र ग्रहण एक खगोलीय घटना है और यह घटना 5 जून को घटेगी। ग्रहण के दौरान विशेष सावधानी बरती जाती है। चंद्र ग्रहण भारतीय समयानुसार रात्रि 11 बजकर 16 मिनट से ग्रहण शुरू हो जाएगा और अगली तारीख 6 जून की रात 2 बजकर 34 मिनट तक रहेगा।
8
8
9
पूरे विश्व में 5 जून को पर्यावरण दिवस मनाया जाता है, संयुक्त राष्ट्र ने इस दिन को मनाने की शुरुआत की थी, जो प्रकृति को समर्पित दुनियाभर में सबसे बड़ा उत्सव है।
9
10
इस साल का दूसरा चंद्र ग्रहण ज्येष्ठ मास की पूर्णिमा, तिथि 5 जून 2020 की रात में लगेगा। खगोल शास्त्रियों के मतानुसार जब चंद्रमा पृथ्वी और सूर्य के बीच आ जाता है तो यह ग्रहण लगता है, 5 जून को लगने वाला चंद्र ग्रहण उपछाया चंद्र ग्रहण होगा।
10
11
पृथ्वी व प्रकृति का घेरा या आवरण पर्यावरण कहलाता है। जो वायु, जल, भूमि, गगन, सूर्य का प्रकाश एवं समस्त प्राणियों (मनुष्य सहित) से मिलकर बनता है। इस पर्यावरण को समस्त जीव प्रभावित भी करते हैं
11
12
दुनिया के लोगों के मन आज भय से व्याकुल हैं। दुनियाभर की राजकाज की व्यवस्थाओं, समाजों और मनुष्यों के मन में जो चिंता और भय अपने जीवन की सुरक्षा और जनजीवन की गतिशीलता के बारे व्याप्त हो गया है, उससे आज की दुनिया कैसे उबरे? यह वह सवाल है जिसे लेकर आप, ...
12
13
हिन्दू धर्म के अनुसार हमारा ब्रह्मांड, धरती, जीव, जंतु, प्राणी और मनुष्य सभी का निर्माण आठ तत्वों से हुआ है। इन आठ तत्वों में से पांच तत्व को हम सभी जानते हैं। आओ जानते हैं पांच तत्व क्या है।
13
14
लेक‍िन जो घटनाएं ‘ट्रस्‍ट एंड ब‍िट्रेड’ की होती हैं वहां शायद इट ऑल डजन्‍ट वर्क!
14
15
थकान के बीच अगर एक कप कॉफी मिल जाए तो दिन एनर्जी और ताजगी से भरपूर हो जाता है। कॉफी पीने के बहुत सारे लाभ हैं, जैसे जब आप कॉफी पीते हैं तो टेंशन कम होती। ऐसे कई फायदे हैं, जो कॉफी के सेवन से हमें मिलते हैं अगर आप कॉफी में बटर मिलाकर पीते हैं ...
15
16
मौसम का बदलता मिजाज बीमारियों को भी साथ लेकर आता है और बदलते मौसम में यदि सेहत को नजरअंदाज किया जाए तो यह लापरवाही भारी भी पड़ सकती है। इसलिए बदलते मौसम के साथ सेहतमंद रहने के लिए कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना भी जरूरी है। आइए जानते हैं कि बदलते ...
16
17
बदलते मौसम के साथ सर्दी-खांसी जैसी समस्या आम हो जाती है जिससे निजात पाने के लिए लोग क्या कुछ नहीं करते हैं। लेकिन सर्दी-खांसी को आने से पहले ही रोक दिया जाए तो? मतलब बदलते मौसम के साथ यदि हम पहले से ही कुछ बातों का ध्यान रखें और इन्हें खुद पर हावी ...
17
18
सर्दी-जुकाम हो या फिर त्वचा की देखभाल, भाप लेना एक बेहतरीन कारगर प्रक्रिया है। बगैर किसी साइड इफेक्ट के कई स्वास्थ्य और सेहत के फायदे पाने के लिए यह आपको जरूर पता होना चाहिए। आइए इस लेख में जानते हैं भाप लेने से क्या फायदे होते हैं और भाप लेने का ...
18
19
चंद्र ग्रहण 5 जून को लगेगा। भारतीय समयानुसार यह रात 11 बजकर 16 मिनट से शुरू होकर अगली तारीख 6 जून की रात 2 बजकर 34 मिनट तक रहेगा। 12 बजकर 54 मिनट पर पूर्ण चंद्रग्रहण होगा।
19