0

Lockdown ने सिखाएं जीवन जीने के 10 सबक, आने वाली पीढ़ी भी रखेगी याद

शुक्रवार,अप्रैल 16, 2021
0
1
इन दिनों (नवरात्रि के दिनों में) गली मोहल्लों में पूरे नौ दिन लांगुरिया गाई जाती है। लांगुरिया और भेंटे रोज ही गाए जाते हैं, ये देवी की महिमा, शक्ति और चरित्र के गायन होते हैं। ढोलक की थाप, कर्रे गले से लांगुरिया का गायन, साथ में लय-ताल-गति से ...
1
2
रेणु का मानना है कि इस कठिन समय में उनका सहारा बना उनका प्रकृति प्रेमी होना।हर तरह के पेड़-पौधों को आप उसके घर में पाएंगे, जिसे बड़े जतन से वो संभालती है। परिवार के पसंद के नामकरण के साथ वो पिल्ले भी समय समय पर अपना मेडिकल ले रहे हैं। उनके नखरे भी ...
2
3
नस्‍य का अर्थ है नासिका या नाक। उन्‍होंने बताया कि कोरोना से बचने के लिए रोजाना अपनी नाक में सुबह-शाम तीन-तीन बूंद अणु तेल डालना चाहिए। यह तेल हमारे नेजल न्‍यूकोजा यानी झ‍िल्‍ली के बीच सुरक्षा कवच के तौर पर काम करेगा और वायरस को शरीर के अंदर नहीं ...
3
4
नवरात्रि में पेड़े केभोग से माता रानी प्रसन्न होंगी। कैसे बनाएं घर पर- सबसे पहले दूध में मेवे की कतरन मिलाकर मिक्सी में महीन पेस्ट तैयार करें।
4
4
5
अंकल! मेरे डैडी ठीक तो हो जाएंगे ना... किसी मासूम के मुंह से निकले इस तरह शब्द आपको भीतर तक छलनी कर देंगे, हो सकता है आप अपने आंसू भी न रोक पाएं, लेकिन कोरोनावायरस (Coronavirus) काल में ऐसे दृश्य आम हैं। किसी मासूम को अपने डैडी या मम्मा की चिंता है ...
5
6
कोरोनाकाल के दौरान लोगों में निराशा, हताशा और भय के साथ ही मन में नकारात्मक अर्थात निगे‍टिव सोच का जन्म भी हो चला है। हालांकि इस बीच कई लोग बेखौफ घूम रहे हैं और लापरवाही की तो हद हो चली है। कोरोना वायरस के तेजी से फैलने के दौर में लोग ना मास्क लगा ...
6
7
गणगौर पर्व पर गणगौरी गुने बनाने के लिए सबसे पहले रवा-मैदा छान लें। आधा कप घी का मोयन लें और मीठा पीला रंग मिलाकर पूरी की तरह आटा गूंथ लें।
7
8
भारत हर वर्ष औसतन 60 से 80 लाख टन गुड़ उत्पादित करता है। देश में कुल गन्ना उत्पादन का लगभग 20 प्रतिशत हिस्सा गुड़ और खाण्डसारी उद्योगों में उपयोग होता है, जिससे करीब 25 लाख लोगों को रोजगार मिला हुआ है।
8
8
9
आपकी इच्छा शक्ति मजबूत होने के साथ ही परिवार का पूर्ण सहयोग, प्रेम होना चाहिए। अगर परिवार , मित्र , पड़ोसी डटकर आपके साथ खड़े हैं तो दुनिया की कोई ताकत आपको नहीं हरा सकती। ये एक वायरस है जिसे सिर्फ सकारात्मकता के साथ ही मारा जा सकता है।
9
10
गणगौर का पर्व महिलाएं पूरे साज-सज्जा के साथ इस मनाती है। इस दिन महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र के लिए व्रत रखती हैं। मां गौरी की पूजा कर पति की लंबी
10
11
सर्वप्रथम भीगे हुए साबूदाने को मिक्सर में थोड़े-से पिस लें और आलू को छीलकर हाथ से मसल लें। फिर आलू में पिसे हुए साबूदाने मिलाकर नमक, बारीक कटी हरी मिर्च
11
12
कोरोना वायरस के प्रकोप ने लोगों में एक डर का माहौल बना दिया है। हर किसी के मन में एक ही सवाल है कि आखिर इस वायरस से कैसे निपटा जाए.....
12
13
पैरों में बिछिया पहनने से महिलाओं का हार्मोनल सिस्टम सही रूप से कार्य करता है, बिछिया पहनने से थाइराइड की संभावना कम हो जाती है।
13
14
हमारे समाज में सिर्फ विवाहित महिलाएं ही अपने पैरों की उंगलियों में बिछिया पहनती है। इसे आमतौर सुहागनों के साज-श्रृंगार का हिस्सा माना जाता है जिसे पैरों में बीच की 3 उंगलियों में पहना जाता है। अगर आप भी
14
15
14 अप्रैल 1891 को महू में सूबेदार रामजी शकपाल एवं भीमाबाई की चौदहवीं संतान के रूप में डॉ. भीमराव अंबेडकर का जन्म हुआ था।
15
16
अंबेडकर भारतीय इतिहास के ऐसे महान व्यक्ति हैं जिन्होंने दलितों को सामाजिक अधिकार दिलाने के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया। आइए जानें बाबा साहेब अंबेडकर के 20 अनमोल विचार...
16
17
डॉ. भीमराव अंबेडकर जी ने इस दुनिया में अपनी छवि किसी जाति या समाज में रहकर नहीं बल्कि समाज के लिए काम करके बनाई है। बचपन से ही उनका जीवन संघर्षरत रहा।
17
18
कई बार पेट साफ होने पर भी शरीर अंदर से पूरी तरह से साफ नहीं होता है। ऐसे में शरीर के अंदर जमे विषैले पदार्थों को यदि बाहर नहीं निकाला गया तो वह कई बीमारियों को पैदा कर सकते हैं...
18
19
गणगौर पर्व पर महिलाएं काफी खूबसूरत लगती है। लेकिन अक्सर परिवार और काम की दुनिया से खुद के लिए समय निकालना भूल जाती है। ऐसे में त्वचा एकदम बेजान हो जाती है
19